PM CARES Fund
PM CARES Fund|Google Image
टॉप न्यूज़

कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए पीएम केयर्स फंड से दिए गए 3100 करोड़।

PM CARES Fund बनाये जाने के बाद से ही विपक्षी दलों द्वारा इसको लेकर आरोप लगाए जा रहे थे, कांग्रेस समेत अन्य दलों को इस फंड की प्रकृति और इसके संचालन को लेकर आपत्ति थी।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

कोरोना से लड़ाई के बीच जब पूरा देश कोरोना के खिलाफ एकजुट होकर लड़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल में ही बनाये गए नए आपदा फंड "PM Cares Fund" से 3100 करोड़ निकाल कर भारत की सेवा में सौंपे हैं। इस फंड का उपयोग कोरोना महामारी के साथ सीधी लड़ाई में होगा। ज्ञात हो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस फंड का निर्माण आनन-फानन में सिर्फ इसलिए किया था ताकि वक्त पड़ने पर बिना किसी ज्यादा तामझाम के इससे फंड निकाल कर उपयोग में लाया जा सके।

कैसे होगा खर्च ?

पीएम केयर्स से निकाले गए पैसो का खर्च कुछ इस प्रकार होगा:

  • 100 करोड़ कोरोना वैक्सीन की खोज और निर्माण में खर्च होगा।

  • 2000 करोड़ अति गंभीर मरीज़ों के लिए उपयोगी वेंटिलेटर निर्माण और खरीदने में खर्च होगा।

  • 1000 हजार करोड़ प्रवासी श्रमिकों के हितों के लिए, जिसमें उनका भोजन, भत्ता, दवा इत्यादि शामिल है।

कुल मिलाकर यह रकम 3100 करोड़ बैठती है।

विपक्षी दलों को थी आपत्ति :

दरअसल इससे पहले भी प्रधानमंत्री आपदा राहत कोष नाम का एक इमरजेंसी फंड भारत मे पहले से ही मौजूद है लेकिन इससे फंड निकालने में बहुत ज्यादा पेचीदगियां शामिल है। क्योंकि इस फंड में शामिल सदस्यों के द्वारा आनाकानी करने पर इसका उपयोग बाधित हो जाता है या फिर मिन्नते करनी पड़ सकती हैं। क्योंकि इस फंड में विपक्षी दल के नेताओं की भूमिका होती है जबकि पीएम केयर्स में इस तरह का कोई प्रावधान नहीं है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com