उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
UP Police
UP Police|Twitter
टॉप न्यूज़

अबोध बच्चे के सामने उत्तर प्रदेश पुलिस ने की पिता की पिटाई,बेबस बच्चा मांगता रहा दया की भीख !

हनक वो कमीनी चीज है जो अगर सर पर चढ़ जाए तो सारी मानवता ताख पर रख देती है”

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

Summary

घबराइए की आप उत्तर प्रदेश में है, जी हां जनाब अगर आप उत्तर प्रदेश के किसी कोने में घूम रहे है और आप अगर किसी वाहन में है तो आपको न सिर्फ सारे दस्तावेज अपने साथ रखने होंगे बल्कि अपनी पीठ और गाल मजबूत करने पड़ेंगे , क्योकि पता नही कानून का हाँथ कब अचानक से आकर आपके चेहरे का आकार बदल दे।

मामला उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थ नगर का है, जहाँ वाहन चेकिंग के नाम पर एक व्यक्ति की पिटाई उसके लगभग चार या पांच साल के बच्चे के सामने की गई, उस वक्त तक वह बच्चा पुलिसकर्मियों से अपने पिता को न मारने और बचाने की गुहार करता रहा,
गौर करने वाली बात यह रही कि वायरल वीडियो में वह बच्चा बार-बार अपने पिता और पुलिसकर्मियों के पास  जा रहा है लेकिन किसी  पुलिसकर्मी का मन नही पसीज रहा है, बल्कि उल्टे उसके पिता को और ज्यादा तेजी से पीटना जारी रखा,
मौके पर उपस्थित किसी व्यक्ति ने इस सारे वाकये को मोबाइल पर रिकॉर्ड कर लिया,और इस वीडियो को लेकर ट्वीट किया जिसमें उत्तर प्रदेश पुलिस को भी टैग किया,
उत्तर प्रदेश पुलिस ने भी अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए उस ट्वीट पर जवाब दिया कि उक्त पुलिसकर्मियों और थाना प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है,
लेकिन असल सवाल यहीं से उठता है ।

क्या निलंबन कोई गंगा है, या लाइन हाजिर करने से सारे पाप धुल जाते है?

बच्चा अपने बाल मन से कभी यह मिटा नही पायेगा:

कहते है बचपन मे जो घटना हो उस बालक के जीवन पर गहरा असर डालती है, वह बच्चा जो अपने पिता को दुनिया का सबसे शक्तिशाली पुरुष समझता है, उसके सामने बिना किसी बड़े अपराध के सरे राह इस तरह की पिटाई, अगर उस व्यक्ति ने मोटर व्हीकल एक्ट का कोई नियम तोडा था तो उसका चालान किया जाना चाहिए था, अगर उस व्यक्ति ने कोई बहस भी की थी तो अभिव्यक्ति की आजादी के तहत उसे पुलिसकर्मियों से सवाल पूंछने का अधिकार था, लेकिन जनाब यह पुलिसिया अंदाज है, जहां जवाब पूंछने पर लात जूते इस कदर बरसते है कि गिनना मुश्किल हो जाता है।

लाख कोशिश करो छवि नही सुधरेगी:

एक ओर उत्तर प्रदेश पुलिस  छवि सुधार का गाना गाये चली जा रही है, वही इस तरह की घटनाएं सभी  मेहनत पर पानी फेर देती है, मामला उत्तर प्रदेश का है जहां योगी जी  प्रदेश को उत्तम बनाने की बात कर रहे है, और यहाँ पुलिस उनकी लंका लगाने पर तुली है ।