उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
लक्ष्मीकांत बाजपेयी
लक्ष्मीकांत बाजपेयी |Social Media
टॉप न्यूज़

उत्तर प्रदेश बिजली विभाग पर पूर्व भाजपा अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने उठाये सवाल, श्री कांत शर्मा ने दिलाया जनता को भरोसा

भाजपा नेता ने इलेक्ट्रॉनिक मीटर को कहा- लुटेरा है स्मार्ट मीटर !

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

उत्तर प्रदेश का पूरा बिजली महकमा आजकल आलोचनाओं के बीच में है, इसी क्रम में भाजपा उत्तर प्रदेश के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा को पत्र लिखकर इस बाबत अपनी आपत्ति दर्ज कराई, जिसमें दोषपूर्ण मीटर प्रणाली और आम उपभोक्ताओं के शोषण संबंधी बातों पर जोर दिया है।

गौरतलब हो बिजली कंपनियों जैसे दक्षिणांचल विद्युत वितरण खंड, मध्यांचल विद्युत वितरण, पश्चिमांचल विद्युत वितरण और अन्य सरकारी कंपनियों द्वारा उत्तर प्रदेश में विद्युत वितरण का काम किया जा रहा है। लेकिन पिछले कुछ महीनों से इन कंपनियों पर उपभोक्ताओं को चूना लगाने और शोषण की तमाम शिकायते सांमने आ रही है।

बाजपेयी ने उत्तर प्रदेश कारपोरेशन के मुखिया ऊर्जामंत्री श्री कांत शर्मा से इस मामले में गुहार लगाई है कि लगातार मीटर बदल कर सरकार क्या साबित करना चाह रही है,विभाग द्वारा 2002 में इलेक्ट्रॉनिक मीटर लगाना और 2006 में चायनीज मीटर लगाकर बिजली बांटी गई, और अब सरकार प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाकर बिजली सप्लाई का काम कर रही है। इससे उपभोक्ताओं पर सीधा असर पड़ रहा है क्योंकि वर्तमान बिल ढाई से तीन गुना हो चुका है, तो सरकार को यह जानकारी देनी चाहिए कि या तो पूर्व में मीटर चोर थे या आज के मीटर गलत तरीके से चार्ज किये जा रहे है।

बाजपेयी ने बिजली चोरी रोकने वाली सरकारी नीतियों का समर्थन किया है लेकिन इसमें भी उन्होंने उपभोक्ताओं के हितों को सुरक्षित रखने की सलाह दी है , उन्होंने पत्र में कहा कि अगर उपभोक्ताओं की कोई आपत्ति है तो उसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

दिए गए पत्र के जवाब में ट्विटर पर ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने भी जवाब प्रेषित किया है।