उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Ratul Puri
Ratul Puri|IANS
टॉप न्यूज़

मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी पर ईडी का शिकंजा कसता जा रहा है, हिरासत 4 दिन और बढ़ाई गई। 

354 करोड़ का बैंक घोटाला मामला

Abhishek

Abhishek

Summary

354 करोड़ रुपए के बैंक ऋण धोखाधड़ी मामले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे एवं कारोबारी रतुल पुरी को ईडी ने कुछ समय पहले गिरफ्तार किया था।

आज दिल्ली की एक अदालत ने 354 करोड़ रुपए के बैंक ऋण धोखाधड़ी मामले में व्यापारी रतुल पुरी की ईडी हिरासत चार दिन और बढ़ा दी। यह धनशोधन का मामला उनकी कंपनी मोजर बेयर इंडिया लिमिटेड (MBIL) से जुड़े बैंक धोखाधड़ी से संबंधित है। रतुल को ईडी ने 20 अगस्त को गिरफ्तार किया था। ईडी ने ऐसा रतुल व अन्य के खिलाफ धनशोधन रोकथाम अधिनियम (PMLA) के तहत धनशोधन का मामले दर्ज होने के बाद किया। यह पीएमएलए का मामला केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) द्वारा मोजर बेयर इंडिया लिमिटेड के खिलाफ प्राथमिकी पर आधारित है।

रतुल पुरी, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे हैं। पुरी को दिल्ली की एक अदालत ने छह दिनों के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया। दिल्ली की अदालत ने सोमवार को चार और दिनों के लिए उनकी हिरासत बढ़ा दी। उन्हें विशेष सीबीआई न्यायाधीश संजय गर्ग के समक्ष शुक्रवार को पेश किया गया।

ईडी के विशेष वकील विकास गर्ग व डी.पी.सिंह ने सोमवार को अदालत में तर्क दिया कि किस तरह से पुरी के वकील विजय अग्रवाल जांच को देरी करने की कोशिश कर रहे हैं।

अग्रवाल ने शुक्रवार को कहा, "ईडी के साथ सहयोग के प्रयास में हम रिमांड का विरोध नहीं कर रहे हैं।"

विशेष लोक अभियोजक (एसपीपी) डी.पी.सिंह ने कहा कि 11 और गवाहों का सामना कराया जाना है और इसलिए रतुल की हिरासत को बढ़ाने की मांग की गई।

सीबीआई ने रतुल पुरी, उनकी कंपनी, उनके पिता व प्रबंध निदेशक दीपक, निदेशकों नीता पुरी (उनकी मां व कमलनाथ की बहन), संजय जैन व विनीत शर्मा पर कथित तौर पर आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी, जालसाजी व भ्रष्टाचार को लेकर मामला दर्ज किया है।

ईडी, 3600 करोड़ रुपये के अगस्तावेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले में भी रतुल पुरी से पूछताछ करना चाहती है।