उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Sheikh Rashid Ahmed
Sheikh Rashid Ahmed|Social Media
टॉप न्यूज़

Video: पाकिस्तानी मंत्री ने फिर दी भारत को गीदड़ भभकी, कहा अक्टूबर-नवंबर होगी बड़ी जंग।

इमरान खान भी दे चुके हैं परमाणु हमले की धमकी 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

जम्मू-कश्मीर मुद्दा दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है, पाकिस्तानी नेता अब इस मामले को लेकर बड़बोले बयान पर उतारू हो गए हैं और उनके इस बेतुके बयान से पाकिस्तान की घबराहट साफ़-साफ नज़र आ रही है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच G-7 सम्मेलन के दौरान फ्रांस में बैठक हुई, इस बैठक के बाद ट्रंप ने कश्मीर मसले पर भारत का समर्थन किया, लेकिन पाकिस्तान इस मामले में ट्रंप का रवैया देख जलभुन गया और गुस्से में आकर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत को परमाणु हमले की धमकी दे दी और अब उनके मंत्री भी युद्ध की घमकी दे रहे हैं।

दरअसल पाकिस्तान के रेलमंत्री शेख रशीद रावलपिंडी गए थे ,जहां मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि 'बहुत जल्द भारत-पाकिस्तान में युद्ध होने वाला है’ और इसके साथ ही उन्होंने युद्ध की तारीख भी बता दी। उन्होंने कहा कि ‘हम पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर का दौरा करने जा रहे है, हम कश्मीर के लिए लड़ेंगे' और इसके साथ ही मंत्री जी के बयान का एक वीडियो सोशल मीडिया ट्विटर में वायरल हो गया।

इस वीडियो में मंत्री जी ने कहा कि -

“मैं अक्टूबर के आखिर और नवंबर के शुरुआती महीने में हिंदुस्तान-पाकिस्तान के बीच में जंग होते हुए देख रहा हूं। मैं इस लड़ाई का मुकाबला करने के लिए अपनी कौम को तैयार करने निकला हूं। ये जरुरी नहीं की दोनों मुल्कों में जंग हो लेकिन जिस नरेंद्र मोदी को समझने में बड़े-बड़े सियासतदारों ने गलती की है मैंने उन्हें समझने में कभी कोई गलती नहीं की है। मैं बताता हूं असल मसला क्या है, आज 24-25 करोड़ मुस्लमान आबादी पाकिस्तान की तरफ देखती है, अब हमें अपने सारे आपसी मदभेद को भूलकर, कश्मीर की आवाम के साथ, कदम से कदम मिलाकर, कंधे से कंधा मिलाकर चलना है। हमें कश्मीर की आवाज बननी है वरना तारीख हमें कभी माफ़ नहीं करेगी।”

मीडिया से बात करते हुए मंत्री जी बार-बार सयुंक्त राष्ट्र के सामने कश्मीर का मुद्दा उठाने की बात कर रहे हैं। वह कहते हैं कि हम अंतिम सांस तक कश्मीर के लिए लड़ते रहेंगे। आपको बता दें कि पाकिस्तान आर्थिक तंगी से जूझ रहा है, कंगाली के दरवाजे पर खड़ा है और उसके बाद भी पाकिस्तानी मंत्रियों की तरफ से लगातार युद्ध की धमकी दी जा रही है। ज्ञात हो कि जम्मू-कश्मीर मामले में भारत को विश्व के सभी प्रमुख देश जैसे अमेरिका, चीन, रूस, यूएई का समर्थन प्राप्त है।