उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Arun Jaitley Stadium
Arun Jaitley Stadium|Social Media
टॉप न्यूज़

फिरोजशाह कोटला मैदान का नाम बदल कर अरुण जेटली मैदान किया जाएगा 

कुछ दिन पहले इस मैदान के एक स्टैंड का नाम टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के नाम पर रखा गया था।  

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

स्वर्गीय पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन के बाद DDCA (Delhi & District Cricket Association) ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए दिल्ली के ‘फिरोज़शाह कोटला मैदान’ का नाम बदल कर ‘अरुण जेटली मैदान’ रखने का फैसला किया है। DDCA (Delhi & District Cricket Association) ने आज इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि 12 सितंबर को एक विशेष कार्यकर्म के तहत फिरोज़शाह कोटला मैदान का नामकरण किया जाएगा।

आपको बता दें कि पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का क्रिकेट से बेहद लगाव रहा है, जेटली DDCA (Delhi & District Cricket Association) के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के उपाध्यक्ष भी रहे हैं। इसलिए DDCA की तरफ से उन्हें यह श्रद्धांजलि दी गई है।

DDCA के अध्यक्ष रजत शर्मा ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि 'फ़िरोज़शाह कोटला मैदान का नाम बदलकर अरुण जेटली मैदान कर दिया जाएगा। इससे बेहतर और क्या हो सकता है कि इस मैदान का नाम उस आदमी के नाम पर रखा जाए जो कभी यहां का अध्यक्ष रहा हो। अरुण जेटली की वजह से ही आज हमारे देश को विराट कोहली, वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, आशीष नेहरा, ऋषभ पंत जैसे कई खिलाड़ी मिले हैं, जिनकी वजह से भारत गौरवान्वित महसूस करता है।’

रजत शर्मा ने कहा कि 'दिल्ली के सभी मैदानों में आधुनिक सुविधा, अत्यधिक दर्शक क्षमता और विश्वस्तरीय ड्रेसिंग रूम बनाने का श्रेय पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को ही जाता है, जब वो DDCA के अध्यक्ष थे तो इस दिशा में उन्होंने काफी काम किया। फ़िरोज़ शाह कोटला मैदान का नामकारण जवाहर लाल नेहरू मैदान में किया जायेगा। जिसमें बीजेपी के कई बड़े नेता शामिल हो सकते हैं।

DDCA ने इससे पहले फिरोज़शाह कोटला मैदान के एक स्टैंड का नाम टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के नाम पर रखने का फैसला लिया था। जिसके जानकारी उन्होंने ट्वीट कर के दी थी।

कौन था फ़िरोज़ शाह जिसके नाम पर रखा गया स्टेडियम का नाम

फ़िरोज़ शाह, भारत में तुगलक वंश का अंतिम मुस्लिम शासक था, उसका दूसरा नाम 'फ़िरोज़ शाह तुगलक' भी था। वह खुद को कट्टर सुन्नी मुसलमान मानता था। फ़िरोज़ शाह की राजधानी दिल्ली थी अपने शासन के दौरान फ़िरोज़ शाह ने राजधानी दिल्ली में शिक्षा का प्रचार किया कई मदरसे बनवाये, नगरों की स्थापना की जिसमें हिसार, फ़तेहाबाद, फ़िरोज़ाबाद, जौनपुर, और फ़िरोज़पुर जैसे बड़े नगर शामिल हैं। इसके अलावा फिरोज शाह ने ही अपने नाम पर दिल्ली स्थित 'फिरोज शाह कोटला मैदान’ और 'फिरोज शाह कोटला दुर्ग' का निर्माण करवाया।