उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
औरंगाबाद मॉब लिंचिंग
औरंगाबाद मॉब लिंचिंग|Social Media
टॉप न्यूज़

तबरेज अंसारी की घटना से प्रभावित होकर, औरंगाबाद में दो मुस्लिम युवकों से ‘जय श्री राम’ के नारे लगवाए गए 

मॉब लिंचिंग पर बेसुध प्रशासन, उपद्रवी मचा रहे उत्पात

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

महाराष्ट्र के औरंगाबाद से मॉब लिंचिंग की एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां दो मुस्लिम युवकों के साथ मारपीट कर के उनसे जबरन 'जय श्री राम' के नारे लगवाए गए। समाचार एजेंसी ANI की रिपोर्ट से पता चला है कि यह घटना औरंगाबाद के आजाद चौक पर अंजाम दी गई है। जब दो मुस्लिम युवक रविवार शाम में अपने काम से घर लौट रहे थे तभी चार कार सवार युवक उनके सामने आये और उन्हें रुकवा लिया। जिसके बाद चारों कार सवार लड़कों ने दो मुस्लिम युवकों की पिटाई शुरू कर दी।

पीड़ित ने लगाई मदद की गुहार

पीड़ितों में से एक शेख आमिर ने पुलिस के पास जाकर इस मामले की रिपोर्ट लिखवाई। आमिर ने पुलिस को बताया कि मैं अपने दोस्त के साथ शाम में घर लौट रहा था। तभी चार लोगों ने आज़ाद चौक पर हमें रोक लिया। उन्होंने हमसे 'जय श्री राम' का नारा लगाने को कहा। जब हमने मना किया तो हमें फेंकने की धमकी देने लगे। फिर मारपीट की और भाग गए।

यह मामला तब सामने आया जब पीड़ित शेख आमिर ने पुलिस के पास जाकर शिकायत दर्ज करवाई। मामले की छानबीन कर रही पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच कर CCTV को खंगालने में जुट गई। पुलिस अब CCTV फुटेज के जरिये आरोपियों की जाँच कर रही है।

आज़ाद चौक की बढ़ा दी गई सुरक्षा

इस घटना के बाद राज्य की कानून व्यवस्था बनाने रखने के लिए आज़ाद चौक के चप्पे-चप्पे पर महाराष्ट्र पुलिस की तैनाती कर दी गई है। हर जगह CCTV कैमरा लगा दिए गए हैं। औरंगाबाद पुलिस कमिश्नर ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि जब तक इस घटना की जांच चल रही है, मेरा लोगों से अनुरोध है कि इस घटना को लेकर कोई अफवाह ना फैलाए। राज्य की कानून व्यवस्था बनाए रखें।

आपको बता दें कि, मुस्लिम युवक से मारपीट कर जय श्री राम बुलवाने की घटना नई नहीं है। कुछ दिन पहले झारखंड के तबरेज अंसारी के साथ मारपीट कर के उनसे भी जय श्री राम का नारा लगवाया गया था। इसके अलावा औरंगाबाद में भी ऐसी घटना पहले देखने को मिल चुकी है। इमरान इस्माइल पटेल नाम के एक मुस्लिम व्यक्ति के साथ 10 बदमाशों ने मारपीट कर ‘जय श्री राम’ के नारे लगवाए थे।