उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
भारत वापस लौटे पीएम मोदी 
भारत वापस लौटे पीएम मोदी |Social Media

Live G-20 Summit: शिखर सम्मलेन में हिस्सा लेने के बाद भारत वापस लौटे पीएम मोदी 

ओसाका शिखर सम्मेलन में भारत 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी G-20 समिट में हिस्सा लेने के लिए जापान के ओसाका में मौजूद हैं। इस दौरे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई देशों के नेताओं से मिलेगें। जहां प्रधानमंत्री आतंकवाद, व्यापार और महिला सशक्तिकरण जैसे मुद्दों पर द्विपक्षीय बातचीत करेंगे। ओसाका पहुंचने पर प्रधानमंत्री मोदी का जोरदार स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री मोदी यहां अमेरिकी के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, चीन प्रमुख शी जिनपिंग, जापान के प्रधानमंत्री शिंज़ो आबे सहित कई देशों के प्रमुख से मुलाकात करेंगे।

Last updated

भारत वापस लौटे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी G-20 समिट में हिस्सा लेने के बाद आज स्वदेश लौट आये हैं। इस सम्मलेन में पीएम मोदी ने अमेरिका, जापान, चीन, तुर्की, ऑस्ट्रेलिया, इंडोनेशिया, कनाडा, इंग्लैंड सहित कई देशों के राष्ट्र प्रमुखों से मुलाकात की।

Last updated

आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर की मोदी की तारीफ

आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने शनिवार को हिंदी में ट्वीट करके अपने भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा कि 'कितना अच्छा है मोदी।'

दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने इस जापानी शहर में चल रहे जी 20 शिखर सम्मेलन के इतर मुलाकात की।

ट्वीट के साथ, मॉरिसन ने मोदी के साथ एक सेल्फी भी पोस्ट की जिसमें दोनों नेता मुस्कुराते हुए नजर आ रहे हैं।

मोदी ने इसके बाद मॉरिसन के पोस्ट को रीट्वीट किया और कहा, "दोस्त, मैं अपने द्विपक्षीय संबंधों की ऊर्जा को लेकर अभिभूत हूं।"

Last updated

जापान से लाइव पीएम मोदी

Last updated

ट्रंप, आबे के साथ त्रिपक्षीय बैठक को मोदी ने 'लाभप्रद' बताया

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपने जापानी समकक्ष शिंजो आबे और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ त्रिपक्षीय बैठक की, जिसे उन्होंने 'लाभप्रद' कहा। बैठक के बाद मोदी ने ट्वीट किया, "आज की जेएआई(जापान, अमेरिका, भारत) की त्रिपक्षीय बैठक लाभप्रद रही। हमने भारत-प्रशांत क्षेत्र, कनेक्टिविटी में सुधार और बुनियादी ढांचे के विकास के सुधार पर व्यापक चर्चा की।"

Last updated

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल से मिले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Prime Minister Narendra Modi meets German Chancellor Angela Merkel
Prime Minister Narendra Modi meets German Chancellor Angela Merkel
Social Media

Last updated

G-20 समिट में ब्रिक्स नेताओं का संयुक्त वक्तव्य

G-20 समिट में हिस्सा लेने पहुंचे नेताओं ने अपने संयुक्त वक्तव्य में इन मुद्दों पर जोर दी। इसमें विश्व व्यापार संगठन को मजबूत करना, संरक्षणवाद से करना, ऊर्जा सुरक्षा सुनिश्चित करना और आतंकवाद से साथ मिल कर लड़ाई शामिल है।

Last updated

सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस से मिले प्रधानमंत्री

G-20 समिट में हिस्सा लेने के लिए जापान के ओसाका में मौजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर बातचीत की, जिसमें ऊर्जा, व्यापार, सुरक्षा, आतंकवाद सहित कई मुद्दे शामिल थे।

Last updated

ब्रिक्स सम्मलेन में बोले पीएम मोदी

आतंकवाद मानवता के लिए 'सबसे बड़ा खतरा' है। मैंने हाल ही में आतंकवाद पर एक ग्लोबल कॉन्फ्रेंस का आह्वाहन किया है, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई के लिए सहयोग जरूरी है। हमें और मजबूती से अंतरराष्ट्रीय, वित्तीय और व्यापारिक संस्थाओं और संगठनों में आवश्यक सुधार पर जोर देना होगा। न्यू डेवलेपमेंट बैंक द्वारा सदस्य देशों के भौतिक और सामाजिक इंस्फ्रास्टक्चर में निवेश को प्राथमिकता मिलनी चाहिए। हमें दुनियाभर में कुशल कारीगरों का आवागमन और भी आसान करना चाहिए।

Last updated

ब्रिक्स सम्मलेन पर विदेश सचिव विजय गोखले का बयान

ब्रिक्स सम्मलेन पर बात करते हुए विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि सभी ब्रिक्स देशों ने आतंकवाद की निंदा की है। आतंकवाद का वित्तपोषण रोकने के लिए सभी देशों को मिलकर काम करेंगे।

Last updated

अमेरिकी राष्ट्रपति से मिले मिले पीएम मोदी

जी-20 समिट के दौरान पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की। दोनों नेताओं की ये मुलाकात काफी अच्छी रही।

Last updated

जापान के प्रधानमंत्री से मिले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने G-20 समिट में जापान के पीएम शिंजो आबे के साथ मुलाकात की और उन्हें एक बार फिर धन्यवाद दिया। प्रधानमंत्री ने कहा आप भारत के पहले मित्र थे जिन्होंने मुझे फोन पर बधाई दी। मैं आपका और जापान सरकार का आभार व्यक्त करता हूं।

Last updated

ओसाका शिखर सम्मेलन एकतरफावाद, संरक्षणवाद, प्रभुत्ववाद का विरोध करेगा : चीन

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कंग श्वांग ने कहा कि चीन आशा करता है कि जापान के ओसाका में आयोजित होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन बहुपक्षवाद का समर्थन करेगा और एकतरफावाद का विरोध करेगा, खुलेपन और समावेशी तंत्र का समर्थन करेगा और संरक्षणवाद का विरोध करेगा। इसके अलावा सहयोग, साझी जीत का समर्थन करेगा और प्रभुत्ववाद का विरोध करेगा। कंग श्वांग ने कहा, "चीन स्वतंत्र व्यापार का समर्थन करता है और नियम के आधार पर बहुपक्षीय व्यापारी तंत्र की रक्षा करता है। चीन जी-20 ओसाका शिखर सम्मेलन के दौरान विभिन्न पक्षों के साथ विश्व आर्थिक परिस्थिति पर गहन रूप से रायशुमारी करेगा।"

Last updated

जी-20 सम्मलेन में हिस्सा लेने वाले देश

भारत, अमेरिका, अर्जेंटीना, ब्रिटेन, ब्राजील, कनाडा, चीन, यूरोपीय संघ, फ्रांस, जर्मनी, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया जी-20 के सदस्य हैं।

Last updated