उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
पंजाब: बोरवेल में फंसा बच्चा 
पंजाब: बोरवेल में फंसा बच्चा |Twitter
टॉप न्यूज़

बोरवेल से बहार आते-आते मासूम फतेहवीर सिंह की मौत हो गई, पंजाब इस मौत को नहीं भूल पाएगा 

पंजाब में बोरवेल से बच्चे को निकाला गया। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

पंजाब के संगरूर जिले के एक गांव में 150 फुट गहरे बोरवेल में गिरे दो वर्षीय बच्चे को पांच दिन के बचाव अभियान के बाद मंगलवार सुबह निकाल लिया गया। लेकिन बहार आते-आते उस बच्चे की मौत हो चुकी थी। बच्चे के दादा ने उसकी मौत होने का दावा किया है। हालांकि बच्चे फतेहवीर सिंह के स्वास्थ्य के बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं है।

पोते की मौत से दुखी दादा रोही सिंह ने घटनास्थल पर मौजूद पत्रकारों से सवालिया लहजे में कहा, “जब उसकी मौत हो चुकी है तो फिर उसे अस्पताल क्यों ले जाया गया?” उन्होंने दावा किया कि बच्चे के शरीर पर गंभीर जख्म थे। बोरवेल से उसे रस्सी का इस्तेमाल कर निकाला गया। 

रोही सिंह

दादा को दुखी देख फतेहवीर के पिता सुखमिंदर सिंह ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। वहीं संगरूर के उपायुक्त घनश्याम थोरी ने कहा कि बच्चे को चंडीगढ़ के पीजीआई हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

प्रशासन की मेहनत फेल

प्रशासन के मुताबिक शुरुआत में बच्चे की मां ने उसे बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन वह असफल रही। जिसके बाद बच्चे को बचाने के लिए व्यापक स्तर पर काम शुरू किया गया। बचाव अभियान चलाया गया। बच्चे तक ऑक्सीजन पहुंचाया गया। यहां तक तो ठीक था लेकिन बच्चे तक खाना-पीना नहीं पहुंचा सका था।

जानकारी के मुताबिक बच्चे फतेहवीर सिंह का बोरवेल में गिरने का कारण, बोरवेल के उपर कपड़ा ढका होना था। बच्चा अनजाने में दुर्घटनावश उस बोरवेल में खेलते-खेलते जा गिरा। बच्चे को बचाने के लिए प्रशासन ने बोरवेल के समांतर एक दूसरा बोरवेल खोदा और उसमें कंक्रीट के बने 36 इंच व्यास के पाइप डाले गए थे। बच्चे को पांच दिन बाद बाहर तो निकाल लिया गया लेकिन बाहर आते-आते बच्चे की मौत हो गई।

मुख्यमंत्री की सफाई

बच्चे की मौत के बाद पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, " फतेहवीर की दुखद मौत के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ। मैं वाहेगुरु से इस भारी नुकसान को सहन करने के लिए उनके परिवार की ताकत को बढ़ाने की प्रार्थना करता हूं। सभी डीसी से किसी भी खुले बोरवेल के बारे में रिपोर्ट मांगी है, ताकि इस तरह के भयानक हादसे को भविष्य में रोका जा सके। ”

सरकार के खिलाफ पंजाब में प्रदर्शन

दो वर्षीय बच्चे फतेहवीर सिंह की मौत के बाद पंजाब की जनता आकोशित हो उठी है। संगरूर में स्थानीय लोगों ने राज्य सरकार के खिलाफ विरोध धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है। लोगों का कहना है कि राज्य सरकार और प्रशासन की लापरवाही की वजह से फतेहवीर की मौत हुई।