उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
cyclone vayu 
cyclone vayu |Google
टॉप न्यूज़

सावधान: फानी के बाद अब आ रहा है ‘वायु चक्रवात’ मानसून में भी हो सकती है देरी !

जिस तरह से फानी चक्रवात ने आकर तबाही मचाई थी उसी तरह से वायु चक्रवात भी अपनी ताकत दिखा सकता है, आने वाले 48 घंटे देश के कई हिस्सों में चिंताजनक स्थिति बनी रहने वाली है। 

Puja Kumari

Puja Kumari

चक्रवात (cyclone) का नाम सुनते ही सभी के मन में एक डर समा जाता है, और हो भी क्यों न भला जब भी कोई चक्रवात आता है तो सबकुछ विनाश करके ही वापस जाता है। बीते दिन फानी चक्रवात के कारण लोगों को क्या-क्या सहना पड़ा ये तो आप सभी ने देखा व सुना ही होगा। पर अब जो हम आपको बताने जा रहे हैं उसे जानकर एक बार फिर से वो भयावह मंजर आपकी आंखों के सामने घुमने लगेगा।

जी हां क्योंकि फानी के बाद ‘वायु चक्रवात’ (cyclone vayu) अपने देश में दस्तक देने जा रहा है, जिसका असर फानी से बढ़कर भी हो सकता है। मौसम विभाग के जानकारों का कहना है कि आने वाले 24 घंटे देश के कुछ हिस्सों पर भारी पड़ सकते हैं। जहां एक तरफ लोग इस भीषण गर्मी से बच बचाकर जीवन यापन कर रहे थे वहीं दूसरी ओर ‘वायु चक्रवात’ (cyclone vayu) की इस खबर ने तो मानों सबको हिलाकर ही रख दिया है।

cyclone vayu 
cyclone vayu 
Google

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार लक्ष्यद्वीप सागर के ऊपर एक चक्रवात बन रहा था जो कि अब उग्र रूप ले चुका है और ये बुधवार तक अपना कहर लोगों पर बरपा सकता है। इस वायु चक्रवात का रूख उत्तर पश्चिम की ओर से गुजरात की तरफ बढ़ रहा है जिसके साथ ही साथ इसका प्रभाव कर्नाटक और गोवा पर भी पड़ेगा जहां भारी बारिश होने की संभावना है। गुजरात में बारिश की आशंका को देखते हुए हाई अलर्ट (High Alert) भी घोषित कर दिया गया है।

cyclone vayu 
cyclone vayu 
Google

गुजरात ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र के समुद्री तटों पर भी इसका असर नजर आने वाला है जहां इसकी गति बढ़कर 300 किलोमीटर प्रति घंटा हो जाएगी। ‘वायु चक्रवात’ (cyclone vayu) की गति की बात करें तो फिल्हाल यह 80 से 90 किलोमीटर प्रति घंटा से आगे बढ़ रहा है लेकिन जैसे ही ये चक्रवात सौराष्ट्र की तरफ पहुंचेगा यानि 12 से 13 जून के बीच इसकी गति 110 से 135 किलोमीटर प्रति घंटे में बदल जाएगी। वैसे वायु चक्रवात का असर अपने देश में ही नहीं बल्कि पाकिस्तान (Pakistan) में भी देखने को मिलेगा, इस चक्रवात के कारण पड़ोसी देश पाक में हीट वेव बनेगा जिससे गर्मी बढ़ सकती है।

भारत सरकार की प्राकृतिक आपदा वाली संस्था NDMA (National Disaster Management Authority) ने ट्विटर के जरिए “वायु चक्रवात” को लेकर चेतावनी भी जारी किया था, इसके अलावा यह भी बताया था कि चक्रवात से कैसे बचा जा सकता है। कहा जा रहा है कि इस चक्रवात का असर मानसून की चाल पर भी पड़ने वाला है, पहले से ही मानसून एक सप्ताह देर से दस्तक दे रहा है लेकिन वायु चक्रवात से मानसून की चाल और भी ज्यादा सुस्त पड़ रही है। हो सकता है कि लोगों को चक्रवात के खत्म होने के करीब 5 दिन बाद ही मानसून का आनंद मिलेगा इसलिए थोड़ा इंतजार और करना होगा।