उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
अरुण जेटली
अरुण जेटली|Google
टॉप न्यूज़

अरुण जेटली के नाम पर ख़त्म हुआ सस्पेंस, सेहत का हवाला देकर मोदी कैबिनेट से हुए बाहर 

मोदी कैबिनेट 2.0

Uday Bulletin

Uday Bulletin

नरेंद्र मोदी 30 मई को दोबारा प्रधानमंत्री पद शपथ की लेने वाले हैं। जिसके बाद मोदी सरकार के मंत्रिमंडल का गठन होना है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी के वरिष्ठ नेता बीते दिनों से ही मंत्रिमंडल के विस्तार पर जुटे हैं। इसी बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिख कर कहा है कि "पीएम उन्हें अपने दूसरे कार्यकाल में शामिल ना करें।”

अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री को खत
अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री को खत
IANS

अरुण जेटली ने प्रधानमंत्री को खत में अपने ख़राब स्वस्थ्य का हवाला देते हुए कहा कि "मैं पिछले 18 महीनों से बीमार हूं, मेरी सेहत ख़राब रहती है। इसलिए मुझे इसबार कोई जिम्मेवारी ना दी जाए।"

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि "मैंने पिछली बार NDA सरकार में वित्त मंत्री का कार्यभार संभाला था। यह मेरे लिए काफी शानदार अनुभव रहा। पार्टी ने मुझे NDA सरकार में अहम जिम्मेदारी देकर मुझे आशीर्वाद दिया था। देश के लिए कुछ करने का आशीर्वाद। हमारी पार्टी जब सत्ता में थी तब भी और जब विपक्ष में थी तब भी मुझे पार्टी ने जिम्मेदारी दी। मैं इससे ज्यादा कुछ नहीं मांग सकता था।

वित्त मंत्री ने कहा "जब चुनाव के दौरान आप केदारनाथ जा रहे थे। तब भी मैंने कहा था कि मुझे जिम्मेवारी से मुक्त कर दीजिए। ताकि मैं अपने स्वास्थ्य पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान दे सकूं।"

आपको बता दें कि पिछले दिनों भी मीडिया में खबर आई थी कि अरुण जेटली मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में शामिल नहीं होंगे। लेकिन तब बीजेपी के आला नेताओं ने इसे महज एक अफवाह बताया था।

ज्ञात हो, बीते काफी समय से अरुण जेटली का स्वास्थ्य ख़राब चल रहा है। 2019 के बजट सत्र में भी अरुण जेटली संसद में मौजूद नहीं थे। तब रेल मंत्री पीयूष गोयल ने वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार संभालते हुए बजट पेश किया था। सूत्रों की माने तो मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में पीयूष गोयल को वित्त मंत्री बनाया जा सकता है।