उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
हंसिका शुक्ला, बारहवीं टॉपर
हंसिका शुक्ला, बारहवीं टॉपर|google
टॉप न्यूज़

CBSE 12th Results: टॉपर हंसिका की टीचर ने बताया क्यों काटा गया उनका ‘एक नंबर’

सीबीएसई 12 वीं की परीक्षा में टॉप करने वाली हंसिका ने बिना ट्यूशन के ही पढ़ाई कर पाये इतने नंबर 

Puja Kumari

Puja Kumari

अभी कुछ ही देर पहले सीबीएसई ने अपनी ऑफिसीयल वेबसाइट पर कक्षा 12 का रिजल्ट जारी कर दिया है। इसमें करीब 83.4 % बच्चे पास हुए है और इसकी खुशी देशभर में देखने को मिल रही है। लेकिन रिजल्ट के आने के तुरंत बाद ही टॉपर का भी नाम सामने आ गया जिसमें बताया गया कि इस बार हंसिका शुक्‍ला और करिश्‍मा अरोड़ा ने टॉप किया है। दोनों ने ही 500 में से 499 अंक हासिल किए हैं।

बताते चलें कि गाजियाबाद के डीपीएस मेरठ रोड से हंसिका शुक्‍ला ने अपनी पढ़ाई की है, रिजल्ट आने के बाद से हर तरफ इनकी ही चर्चा हो रही है। सबकी नजर इनके मार्कशीट पर है तो ऐसे में बता दें कि हंसिका को म्यूजिक, साइकोलॉजी, पॉलिटिकल साइंस और इतिहास में 100 में से 100 नंबर मिले हैं लेकिन वहीं अंग्रेजी में उनको 99 नंबर मिले हैं जो कि 1 नंबर कम है, अगर उन्हे ये 1 नंबर मिल जाते तो वो संयुक्त नहीं बल्कि अकेले टॉपर होती।

हंसिका शुक्ला, बारहवीं टॉपर
हंसिका शुक्ला, बारहवीं टॉपर
google

जब इस बारे में हंसिका से पूछा गया तो उन्होने बताया कि वो कभी भी पढ़ाई के लिए कोचिंग नहीं करती थीं, इसके अलावा वो अक्सर ही सोशल मीडिया से दूर रहती थीं। हंसिका का सपना है कि वो आगे जाकर आईएफएस ऑफिसर बनना चाहती है। हंसिका ने खुद बताया कि उन्हें विदेशी मामले और अंतरराष्ट्रीय संबंध भी बहुत पसंद है इसलिए वो आईएफएस जाने की रूची रखती हैं।

हंसिका की अंग्रेजी की टीचर की माने तो उनका टॉप करना बड़ी बात नहीं है क्योंकि वो शुरू से ही बेहद ही मेहनती हैं लेकिन अंग्रेजी में भाषा के कारण उनको एक नंबर काटना पड़ा पर कोई बात नहीं खुशी इस बात की है कि उन्होने देशभर में टॉप किया है। आज देशभर के लोग उनकी इस कड़ी मेहनत व सफलता की सराहना कर रहे हैं और बधाईयां भी दे रहे हैं।

बारहवीं में आर्ट्स से पढ़ाई करने वाली हंसिका ने आज जो करके दिखाया है वो वाकई में बेहद मुश्किल है आज के समय में सोशल मीडिया से दूरी बनाकर रखना व किसी भी तरह के ट्यूशन के बिना उन्होने खुद के बल पर इतने नंबर लाए हैं। जानकारी के लिए बता दें कि हंसिका की माता सोश्योलॉजी की प्रोफेसर हैं और पिताजी राज्यसभा में काम करते हैं। माता पढ़ाई में काफी स्ट्रीक हैं तो पिता थोड़े नरम।