उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
सीवोटर-आईएएनएस ट्रैकर  
सीवोटर-आईएएनएस ट्रैकर  |IANS
टॉप न्यूज़

बीजेपी के लिए खतरे की घंटी है सी-वोटर्स का नया सर्वे, पीएम मोदी से कुछ ही अंक पीछे हैं राहुल गांधी 

26.13 प्रतिशत मतदाता ने कहा कि वे पीएम मोदी से बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं। 

Uday Bulletin

Uday Bulletin

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान भी कल शांतिपूर्ण तरीके से समाप्त हुआ। जिसके बाद तमाम राजनीतिक पार्टियां तीसरे चरण की तैयारी में जुट गई है। इसी बीच सीवोटर-आईएएनएस ट्रैकर ने प्रधानमंत्री की लोकप्रियता जानने के लिए एक सर्वे किया है। जिसमें दावा किया जा रहा है कि बीते एक महीने में प्रधानमंत्री मोदी की लोकप्रियता में भयंकर गिरावट आई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पसंद करने वालों की रेटिंग में एक महीने में करीब 17 अंकों की गिरावट आई है। लेकिन, कांग्रेस के लिए अभी भी कोई अच्छी खबर नहीं है क्योंकि मतदाताओं के राहुल गांधी को पसंद करने की स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ है। सीवोटर-आईएएनएस ट्रैकर के नवीनतम निष्कर्षो में यह बात सामने आई है।

पीएम मोदी की लोकप्रियता का रिपोर्ट कार्ड यहां देखें

PM Modi satisfaction Survey
PM Modi satisfaction Survey
IANS

पीएम मोदी की लोकप्रियता में गिरावट

18 अप्रैल को भारत भर में 11,074 लोगों से पूछने के बाद सर्वेक्षण तैयार किया गया। प्रधानमंत्री के साथ विशुद्ध संतुष्टि का स्तर घटकर 46.92 रह गया, जो 16.55 की गिरावट है, जबकि सात मार्च को उनकी लोकप्रियता के चरम पर संतुष्टि का स्तर विशुद्ध रूप से 63.47 था।

मतदाताओं से पूछा गया कि क्या वे प्रधानमंत्री से 'बहुत संतुष्ट', 'कुछ हद तक संतुष्ट' और 'बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं हैं'।

18 अप्रैल को, दूसरे चरण के मतदान में 50.65 प्रतिशत जवाब देने वाले लोगों ने कहा कि वे मोदी से बहुत संतुष्ट हैं, जबकि 26.13 प्रतिशत ने कहा कि वे बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं।

लेकिन 7 मार्च को, 55.72 प्रतिशत लोगों ने कहा था कि वे बहुत संतुष्ट हैं और केवल 17 प्रतिशत ने कहा था कि वे मोदी से खुश नहीं हैं।

26 फरवरी को बालाकोट में आतंकवादी ठिकानों पर हवाई हमले के बाद मोदी की लोकप्रियता बढ़ी थी। लेकिन, फिर बाद में लगातार गिरावट आई है।

राहुल गांधी की लोकप्रियता का रिपोर्ट कार्ड यहां देखें

Rahul gandhi satisfaction Survey
Rahul gandhi satisfaction Survey
IANS

दूसरी ओर, राहुल गांधी ने अपने पक्ष में समर्थन व संख्या हासिल करने के लिए काफी संघर्ष किया है क्योंकि 18 अप्रैल को उनके पक्ष में विशुद्ध संतुष्टि स्तर केवल 6.82 था। महज 25.78 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे कांग्रेस अध्यक्ष से बहुत संतुष्ट हैं, लेकिन 40.64 ने कहा कि वे बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं।

उनकी विशुद्ध संतुष्टि रेटिंग 28 फरवरी के बाद से 10 अंक से नीचे है और इसमें कोई सुधार नहीं हुआ है। आपको बता दें कि, तीसरे चरण का मतदान 23 अप्रैल को होगा और इस दौरान 14 राज्यों की 115 सीटों पर वोट डाले जाएंगे और मतगणना 23 अप्रैल को की जाएगी।