Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी
केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी|Google
टॉप न्यूज़

‘क्योंकि मंत्री भी कभी ग्रेजुएट थीं’ कांग्रेस का कपडा मंत्री स्मृति ईरानी पर हमला 

स्मृति ईरानी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ उत्तर प्रदेश की अमेठी लोकसभा सीट से भाजपा की उम्मीदवार हैं।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

बीजेपी नेता और केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी एक बार फिर अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को टक्कर देने के लिए तैयार हैं। राहुल गांधी के नामांकन दाखिल करने के एक दिन बाद स्मृति ईरानी ने भी अमेठी से नामांकन दाखिल किया। जिसके बाद वे कांग्रेस और कांग्रेस अध्यक्ष पर लगातार हमलावर रुख में नज़र आ रही हैं। अमेठी से नामांकन दाखिल करने के बाद स्मृति ईरानी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ शक्ति प्रदर्शन रैली में भाग लिया और कांग्रेस पार्टी पर कई आरोप लगाए। लेकिन अब मामला बदल चुका है। कांग्रेस अब स्मृति ईरानी पर फर्जी डिग्री का आरोप लगा रही है।

दरअसल, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गुरुवार को अपना नामांकन दाखिल किया। जिसके बाद उनके हलफनामें ने एक बड़े विवाद को जन्म दे दिया। स्मृति ईरानी ने अपनी डिग्री को लेकर इस बार जो जानकारी दी है वो 2014 के चुनाव से अलग जानकारी है। इस बार उन्होंने कहा है कि 3 साल का डिग्री कोर्स पूरा नहीं किया है। जबकि 2014 के चुनावों में उन्होंने इतनी साफ़ जानकारी नहीं दी थी। वहीं 2004 में उन्होंने एक हलफ़नामे में खुद को ग्रेजुएट कहा था।

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा, "स्मृति ईरानी ने एक बात साबित कर दी है कि कोई एक स्नातक से कैसे 12वीं पास बन सकता है। यह सिर्फ मोदी सरकार में संभव है।"

ईरानी ने गुरुवार को अपने हलफनामे में कहा था कि उन्होंने 1991 में माध्यमिक विद्यालय परीक्षा पास की थी और 1993 में उच्च माध्यमिक विद्यालय परीक्षा पास की थी।

ईरानी के फॉर्म में सर्वोच्च शैक्षिक योग्यता की श्रेणी में लिखा गया है - दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओपन लर्निग से बैचलर ऑफ कॉमर्स पार्ट-1, और कोष्ठक में लिखा है तीन साल का डिग्री पाठ्यक्रम अपूर्ण।

कांग्रेस ने ईरानी के वे हलफनामे भी जारी किए हैं, जिन्हें उन्होंने विभिन्न चुनावों में चुनाव आयोग को सौंपे थे।

कांग्रेस के आरोप पर स्मृति ईरानी ने पलटवार करते हुए कहा कि " पिछले पांच सालों में उन्होंने मुझपर कई तरह के आरोप लगाए हैं। उन्होंने हर मुमकिन कोशिश की है मुझे परेशान करने की। मेरे पास उनके लिए बस एक ही जवाब है। आप जितना चाहे मेरी इंसल्ट करें, आरोप लगाए मैं अमेठी के लिये और कांग्रेस के खिलाफ मेहनत से काम करती रहूंगी चाहे कांग्रेस मुझे जितना भीअपमानित और प्रताड़ित करती रहे।”

एक बार जब स्मृति ईरानी से पूछा गया कि “ विपक्षी पार्टी हमेसा आपकी डिग्री पर सवाल उठाती है। 2004 के एफिडेविट में आपने बताया था कि आपने BA कम्पलीट किया है फिर आपने 2014 के एफिडेविट में बताया की आपने BA पार्ट 1 तक पढ़ाई की है। इसका क्या कारण है ?”

इसपर जवाब देते हुए स्मृति ईरानी ने कहा " लोग मुझे अनपढ़ कहते हैं। लेकिन मैं बता दूं कि मेरे पास येल यूनिवर्सिटी की भी डिग्री है। येल यूनिवर्सिटी ने मेरी लीडरशिप क्वालिटी को सेलिब्रेट किया था। लेकिन मैं अपनी काबिलियत का ढिंढोरा नहीं पीट सकती हूँ।"

आपको बता दें कि, ईरानी ने 2004 में दिल्ली की चांदनी चौक लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था और उन्होंने दावा किया था कि उन्होंने पत्राचार के जरिए 1996 में आर्ट्स में बैचलर की डिग्री पूरी की थी। विपक्षी नेता ईरानी की शैक्षिक योग्यता को लेकर उनपर कई बार निशाना साधते रहे हैं।