Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
राहुल गांधी
राहुल गांधी|Twitter congress
टॉप न्यूज़

पुणे में छात्रों ने जब राहुल गांधी से पूछे अजीबो-गरीब सवाल, तो सोशल मीडिया आई राहुल के सपोर्ट में 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज स्टूडेंटस से बातचीत करने के लिए पुणे पहुंचे । जहां लोगों ने उनसे राजनीतिक के साथ-साथ पर्सनल सवाल भी पूछे। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज अपने पार्टी के प्रचार के लिए पुणे पहुंचे। जहां उन्होंने कॉलेज स्टूडेंट्स के साथ बातचीत की । करीब एक घंटे तक चली इस बातचीत के दौरान छात्रों ने राहुल गाँधी से कई सवाल पूछे। छात्रों ने राहुल से कुछ ऐसे सवाल भी पूछे जिससे राहुल गांधी को थोड़ा असहज होना पड़ा और बीजेपी को कांग्रेस पर हमला करने का मौका मिला । राहुल गाँधी के साथ इस मंच पर मराठी अभिनेता सुबोध भावे मौजूद थे।

एक छात्र ने राहुल गांधी से सवाल किया कि इस चुनावी माहौल में राजनेताओं की बायोपिक बन रही हैं। पीएम नरेंद्र मोदी और कई नेताओं पर बायोपिक बन कर रिलीज़ हुयी है । अगर आपकी बायोपिक बनती है तो आपकी बायोपिक में हीरोइन किसे होना चाहिए, इस पर राहुल गांधी ने बड़े ही मजेदार तरीके से जवाब दिया। उन्होंने कहा, दुर्भाग्य से ,मैंने अपने काम से शादी कर ली है।

सोशल मीडिया में भी राहुल गांधी काफी सक्रिय हैं। जब उनसे पूछा गया कि आप अपने आलोचकों का सामना कैसे करते हैं इसपर राहुल ने कहा - आप कितना भी चाहे वास्तविक्ता से नहीं भाग सकते। अंत में आपको इसका सामना करना पड़ेगा। मैं वास्तविकता में जीता हूं। हिंसा से किसी को फायदा नहीं मिलता। यह केवल विश्वास की झूठी भावना देता है।

राहुल गांधी से एक सवाल किया गया कि आपका मोदी जी के साथ कैसा रिश्ता है ? इसके जवाब में गांधी ने कहा, 'मैं मोदी जी को प्यार करता हूं। सच में उनके प्रति मेरे दिल में कोई नफरत या गुस्सा नहीं है। राहुल ने कहा अगर पूरी दुनिया नफरत से भरी है तो मुझे कोई परवाह नहीं है। मैं कायर नहीं हूं। मैं नफरत और गुस्से के पीछे नहीं छिपूंगा। मैं सभी प्राणियों से प्यार करता हूं।

राहुल गांधी से उनके और प्रियंका गांधी के रिश्तों पर भी सवाल किया गया। राहुल से पूछा गया कि आप रक्षाबंधन का त्यौहार मनाते हैं ? इसका जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि हां हम यह त्यौहार मानते हैं मैं तब तक राखी नहीं निकलता जब तक वो खुद टूट ना जाये।

राहुल गांधी के कार्यक्रम में मोदी मोदी के लगे नारे -

राहुल गांधी के कार्यक्रम में एक समय ऐसा भी आया जब लोग मोदी-मोदी के नारे लगाने लगे। इसपर राहुल ने कहा -हां ठीक है ठीक है। मैं भी मोदी जी से प्यार करता हूँ।

इन सब सवालों के साथ-साथ राहुल गाँधी ने छात्रों के बीच कांग्रेस पार्टी के मूल विचारों को साझा किया और लोकसभा चुनाव के घोषणा पत्र के बारे में बात की। राहुल ने कहा हमारा घोषणापत्र कांग्रेस पार्टी की अभिव्यक्ति नहीं है, यह देश के सभी लोगों की अभिव्यक्ति है। NYAY की यह अवधारणा भारत के लोगों से आई है। राहुल ने कहा जब हम सत्ता में आएंगे, तो संसद और राज्य विधानसभाओं का 33% हिस्सा महिलाओं के लिए आरक्षित होगा । राष्ट्रीय स्तर पर सभी नौकरियों का 33% हिस्सा महिलाओं के लिए आरक्षित होगा। राहुल ने कहा मुझे अनुभव से साहस मिला है। जो कुछ भी हुआ, उसे मैंने स्वीकार किया। अगर आप सच को स्वीकारते हैं, तो आपमें साहस आता है।

राहुल गांधी ने जिस तरह इस कार्यक्रम में लोगों से बातचीत की उसके बाद ट्विटर पर लोग उनकी प्रशंसा करने लगे।

एक ट्विटर यूजर ने राहुल की तारीफ करते हुए लिखा -

राहुल गांधी ने आज यहां साबित कर दिया कि कांग्रेस की विचारधारा सभी अच्छे बदलाव ला सकती है और मोदी राज के तहत पिछले 5 वर्षों में किए गए नुकसान को ठीक कर सकती है।

एक ट्विटर यूजर ने लिखा -

उमा भारती.. राहुल को हराना चाहती है, लेकिन चुनाव नहीं लड़ रही,

सुमित्रा महाजन.. राहुल को हराना चाहता है लेकिन चुनाव नहीं...

सुषमा स्वराज.. राहुल को हराना चाहती है लेकिन चुनाव नहीं...

स्वर्ग सब जाना चाहते हैं, लेकिन मरना कोई नहीं चाहता..

खोफ इसी को कहते हैं.

एक ट्विटर यूजर ने राहुल की तारीफ करते हुए लिखा -

क्योकि आप वर्तमान समय में एक मात्र महान राजनीतिज्ञ हो जो योद्धा की तरह डटे हुए हो

एक मोदीजी है जो झूठ, नफरत और ठगी के माध्यम अपने को श्रेष्ठ साबित करने पर आमादा है

मोदीजी अपने स्वार्थ के लिए देश के युवाओं को दंगाई बना रहे है

मोदी शाह और BJP के नफरत और जहर को आप ही रोक सकते हो