उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Rajasthan Loksabha Eletion 2019
Rajasthan Loksabha Eletion 2019|Twitter
टॉप न्यूज़

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहीं बड़ी बात, अगर बीजेपी इस चुनाव में जीत गई तो आगे चुनाव होने की कोई गारंटी नहीं होगी 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि भाजपा और आरएसएस की सोच अपने विरोध को सहन नहीं कर पाती है।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

राजस्थान: लोकसभा चुनाव को लेकर तमाम पार्टियों ने रैलियां शुरू कर दी है। राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की बैठक के बाद फैसला लिया गया कि नामांकन पहले सभी विधानसभा क्षत्रों में पार्टी की जनसभाएं हो। जिसके बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट श्रीडूंगरगढ़ में जन सभाएं करने पहुंचे। जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि ‘‘मैं समझता हूं कि भाजपा और आरएसएस के लोग अपने विरोध को सहन नहीं कर पाते।"

अशोक गहलोत ने कहा, "महात्मा गांधी ने कहा था कि लोकतंत्र में विपक्ष क्या कहता है उसका सम्मान होना चाहिए। अपना कोई विरोधी है तो उसकी बात का भी सम्मान होना चाहिए। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे .. विरोध सहन कर ही नहीं सकते क्योंकि इनका लोकतंत्र में यकीन ही नहीं है। ये लोकतंत्र का मुखौटा पहन कर राजनीति में उतरे हुए लोग हैं। इनके पास जनता के लिये कोई नीतियां और कार्यक्रम नहीं है जो कांग्रेस का मुकाबला कर सके।’’

Rajasthan Loksabha Election 2019
Rajasthan Loksabha Election 2019
Twitter

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा को खाली चुनाव में ही राम मंदिर याद आता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 70 साल तक लोकतंत्र को सहेज कर रखा और अगर भारत में लोकतंत्र नहीं होता तो आप :मोदी: कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते थे। मोदी जी मन की बात कहते नहीं थोपते हैं। राहुल गांधी कहते हैं कि जनता की बात सुनों। लोगों से मिलें।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा ‘‘अंग्रेजों के जमाने में पंडित जवाहरलाल नेहरू 12 साल तक जेल में रहे। इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के दो टुकडे़ कर बांग्लादेश का उदय कर दिया और एक लाख सैनिकों से समर्पण करवाया। क्या इसके लिये मोदी जी को गर्व नहीं होना चाहिए ?’’

उन्होंने कहा कि मोदी ने चुनाव से पहले कालाधन वापस लाने, हर किसी के खाते में पंद्रह-पंद्रह लाख रूपये डालने तथा दो करोड़ लोगों को रोजगार देने की घोषणा की थी जो सिर्फ चुनावी जुमला साबित हुई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव बहुत महत्वपूर्ण हैं जो देश की तकदीर का फैसला करेंगे। गहलोत ने कहा, ‘‘मैं बड़ी गंभीरता से कह रहा हूं कि यदि मोदी अपनी पार्टी के साथ वापस चुनाव जीत कर आ गये तो आप यह बात दिमाग में रखें कि आगे चुनाव होने की कोई गारंटी नहीं होगी।’’