उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सैलरी से बचत करते हुए
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सैलरी से बचत करते हुए |IANS
टॉप न्यूज़

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो किया वो अब तक किसी प्रधानमंत्री ने नहीं किया था 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सैलरी से बचत करते हुए 21 लाख रूपये की राशि दान कर दी। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कई बार अपनी सैलरी और अन्य सामानों से मिली हुए राशि को दान करते हुए देखा गया हैं। इस बार फिर प्रधानमंत्री मोदी ने दान किया है, वो भी अपने निजी बचत खाते से। प्रधानमंत्री मोदी ने 21 लाख रूपये की बचत राशि को कुंभ सफाई कर्मचारी कॉरपस फंड को दान किया है। ऐसा करने वाले प्रधानमंत्री मोदी पहले प्रधानमंत्री है। इससे पहले भी प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले महीने साउथ कोरिया से मिली सियोल शांति पुरस्कार व करीब डेढ़ करोड़ राशि को भी नमामि गंगे ट्रस्ट को दान कर दिया था। प्रधानमंत्री मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब भी प्रधानमंत्री मोदी ने कई बार दान किया था।

कुंभ यात्रा के दौरान PM Modi 
कुंभ यात्रा के दौरान PM Modi 
Google

आपको बता दें कि, प्रधानमंत्री मोदी पिछले दिनों प्रयागराज में कुंभ मेले में शामिल हुए थे। उन्होंने कुंभ मेले में यात्रा के दौरान यहां की सफाई से जुड़े सफाईकर्मियों की तारीफ की थी। 8,000 से ज्यादा सफाईकर्मी पिछले 3 महीने से कुंभ को साफ रखने में जुटे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वहां गंगा पंडाल में स्वच्छाग्रहियों और सुरक्षा कर्मियों को सम्मानित भी किया। उन्होंने दो नाविकों राजू और लल्लन को भी पुरस्कृत किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुंभ 2019 के 'शानदार' आयोजन के लिए उत्तर प्रदेश को बधाई दी और कहा कि इसने संस्कृति और आध्यात्मिकता को बेहतरीन तरीके से दर्शाया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पूरे प्रशासन द्वारा किए गए कार्यो की सराहना करते हुए मोदी ने ट्वीट किया, "उत्तर प्रदेश, खासकर प्रयागराज के लोगों को बधाई।"

कुंभ यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा "इस कुंभ ने हमारी संस्कृति, आध्यात्मिकता को शानदार तरीके से दर्शाया और इसे आने वाले कई वर्षों तक याद रखा जाएगा।" उन्होंने एक ही स्थान पर ढेर सारे लोगों की भीड़ को अच्छे से संभालने के मामले में प्रौद्योगिकी के उपयोग की सराहना की।

उन्होंने कहा, "सबसे अधिक संख्या में लोगों द्वारा सफाई करने का रिकॉर्ड कायम किया गया। परिवहन और कला के क्षेत्र में भी रिकॉर्ड बनाए गए। कुंभ के व्यवस्थित रूप से आयोजन में प्रौद्योगिकी का उपयोग सराहनीय था।"

ज्ञात हो, आधिकारिक तौर पर मंगलवार शाम को कुंभ-2019 का समापन हो गया। राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री आदित्यनाथ समापन समारोह में मौजूद रहे।