उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान
भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान
टॉप न्यूज़

Abhinandan: भारत लौटे कर क्या थे “विंग कमांडर अभिनन्दन” के पहले शब्द ?

भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान शुक्रवार रात वाघा अटारी सीमा के जरिये पाकिस्तान से भारत लौटे।  

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

पाकिस्तान अधिकारीयों ने शुक्रवार रात करीब 9 बज कर 20 मिनट में भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान को भारत के अधिकारीयों को सौंप दिया। भारत लौटते ही विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के चेहरे पर 'खुशी' थी। विंग कमांडर की अगुवानी के लिए पहुंचे अधिकारीयों ने बताया कि भारत पहुचंते ही अभिनन्दन ने कहा, 'अपने देश आकर बहुत अच्छा लग रहा है।'

जिसके बाद विंग कमांडर अभिनन्दन वर्धमान को वायु सेना के विमान के ज़रिये रात क़रीब 12 बजे दिल्ली एयरपोर्ट लाया गया। जहां उन्हें सेना के हॉस्पिटल में मेडिकल चेकअप के लिए भर्ती कराया गया। विंग कमांडर के स्वागत के लिए वाघा अटारी बॉर्डर पर हजारों की संख्या में लोग पहुंचे थे। वाघा अटारी सीमा से लेकर देश के कई हिस्सों में अभिनन्दन के स्वागत में ख़ुशी और उत्साह का माहौल दिखा।

आपको बता दें कि, विंग कमांडर अभिनन्दन को पाकिस्तान ने उस समय अपने कब्जे में ले लिया था, जब उनका मिग-21 लड़ाकू विमान पाकिस्तानी क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। नीली कोट, ग्रे पैंट और सफेद शर्ट पहने अभिनंदन की अगवानी सीमा सुरक्षा बल के वरिष्ठ अधिकारियों ने शून्य रेखा पर की। शून्य रेखा भारत-पाकिस्तान की जमीनी सीमा का प्रतीक है।

पाकिस्तान रेंजर्स अभिनंदन को लेकर सीमा द्वार पर पहुंचे, जिसके बाद बीएसएफ के एक अधिकारी ने उन्हें अपनी बाह में ले लिया और वायुसेना के अधिकारियों को सौंपने के लिए उन्हें वहां से लेकर चला गया।

अभिनंदन जिस समय इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों और पाकिस्तानी रेंजर्स के साथ सीमा पर पाकिस्तानी हिस्से में कुछ क्षण के लिए खड़ा होकर इंतजार कर रहे थे, उस समय वह बिल्कुल शांत दिख रहे थे। अंतिम औपचारिकताएं पूरी होने के बाद अंतत: उन्होंने भारतीय सीमा में प्रवेश किया।

पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर में बुधवार को अभिनंदन को पकड़े जाने के बाद नई दिल्ली ने जोरदार मांग उठाई कि पायलट को तत्काल और सुरक्षित तरीके से भारत को सौंपा जाए।