उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
विंग कमांडर अभिनन्दन
विंग कमांडर अभिनन्दन|Twitter
टॉप न्यूज़

पाकिस्तानी फौज की गिरफ्त में विंग कमांडर अभिनन्दन, पाकिस्तान का दावा

विदेश मंत्रायल ने जिस पालयट के लापता होने की बात कही है वो पाकिस्तान के कब्जे में हैं। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़ रहे तनाव में, पाकिस्तान ने बदले की कार्रवाई की, आज सुबह अपनी वायुसेना का इस्तेमाल करते हुए पाकिस्तान ने भारत के सैन्य अड्डों को निशाना बनाया। भारतीय सेना ने उसका जवाब दिया और पाकिस्तान के F-16 जेट को मार गिराया। इसी बीच एक बुरी खबर भी आई है। पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना के विमान मिग-21 बाइसन के 2 पायलट को अपने कब्जे में ले लिया है। जिनमें से एक की पहचान विंग कमांडर अभिनंदन के रूप में हुई है। लेकिन दूसरे की पहचान नहीं हो पाई है। हालांकि भारत विदेश मंत्रालय ने एक पायलट के लापता होने की पुष्टि की है। सूत्रों के अनुसार, अभिनंदन भारतीय वायुसेना के पायलट हैं और वह सेवानिवृत्त एयर मार्शल के पुत्र हैं। सुखोई-30 के पायलट अभिनंदन को 2004 में कमीशन मिला था।

पाकिस्तानी मीडिया द्वारा भारतीय सेना के विंग कमांडर अभिनन्दन का वीडियो

इसी बीच पाकिस्तानी मीडिया में विंग कमांडर अभिनन्दन के फोटो और वीडियो वायरल हो रहे हैं। पाकिस्तानी सेना दावा कर रही है कि भारतीय वायु सेना के लापता विंग कमांडर अभिनन्दन को पाकिस्तानी सेना ने गिरफ्तार कर लिया है, और इस बात की अब पुष्टि हो चुकी है।

पाकिस्तानी समाचार चैनलों पर पायलट को कब्जे में लेने को लेकर एक वीडियो दिखाया गया।

पाकिस्तानी मेजर जनरल की तरफ से ट्वीट कर के कहा गया, "पीएएफ ने पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र के अंदर दो भारतीय विमानों को मार गिराया। इनमें से एक लड़ाकू विमान आजाद कश्मीर (पाक अधिकृत कश्मीर) के अंदर गिरा..एक भारतीय पायलट को जमीन पर मौजूद सेना ने गिरफ्तार कर लिया।"

आपको बता दें, की विंग कमांडर अभिनन्दन को पाकिस्तान सेना ने POK से गिरफ्तार किया है। विदेश मंत्रालय ने अब तक इस बात कि पुष्टि नहीं की है। हालांकि पाकिस्तानी मीडिया और भारतीय वायुसेना की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान का दावा सही है। इसी बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने भारत से एक बार फिर बातचीत की बात कही है। उन्होंने कहा कि हम पुलवामा पर बात करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि हमने पहले भी कहा था और अब भी कह रहे हैं कि आप हमें सुबूत दें हम उसपर कार्रवाई करेंगे।