उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
 विदेश मंत्री सुषमा स्वराज चीन के दौरे पर
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज चीन के दौरे पर
टॉप न्यूज़

चीन में सुषमा स्वराज: पाकिस्तान में पल रहा जैश कर रहा था दूसरे हमले की तैयारी, आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति

विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को चीन के वुझेन में रूस, भारत और चीन के विदेश मंत्रियों की 16वीं बैठक में अपने चीनी समकक्ष के समक्ष जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले का मुद्दा उठाया

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

वुझेन: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को रूस-भारत-चीन (आरआईसी) के विदेश मंत्रियों की 16वीं बैठक में अपने चीनी समकक्ष वांग यी के समक्ष 14 फरवरी को जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले का मुद्दा उठाया।

इस दौरान सुषमा ने कहा, "पुलवामा आतंकी हमले के बाद जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ कार्रवाई करने के अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के आह्रान को गंभीरता से लेने के बजाय पाकिस्तान ने हमले के कोई भी जानकारी होने से इनकार कर दिया और जैश के दावों को सीधे तौर पर खारिज कर दिया।"

सुषमा स्वराज ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय की मांग के बाद भी पाकिस्तान ने जैश-ए-मोहम्मद समेत अन्य आतंकी संगठनों पर गंभीर करने की बजाए हमले की जानकारी होने इनकार किया और जैश-ए-मोहम्मद के कबूलनामें को भी नहीं माना।

सुषमा स्वराज ने हवाई हमले को जस्टिफाई करते हुए कहा कि पाकिस्तान के आतंक के खिलाफ कार्रवाई से लगातार इनकार के बाद भारत ने जैश के आतंकी ठिकानों पर हमला बोला। आगे उन्होंने कहा कि पुख्ता खुफिया जानकारी के बाद कि जैश भारत के अन्य हिस्सों में आतंकी हमलों की योजना बना रहा है, भारत ने हमला करने का फैसला किया। हमने इस एयर स्ट्राइक में इसका पूरा ख्याल रखा कि किसी आम नागरिक को कोई नुकसान नहीं पहुंचे।

इस तरह के नृशंस आतंकवादी हमले आतंकवाद के प्रति शून्य सहिष्णुता दर्शाने और इसके खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करने के लिए सभी देशों को एक साथ आने की जरूरत पर बल देते हैं

चीन के साथ यह बैठक इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि बीजिंग ने जैश प्रमुख मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र से वैश्विक आतंकी घोषित कराने के भारत के प्रयासों को बार-बार अवरुद्ध किया है।

आरआईसी में सुषमा स्वराज अपने रूसी समकक्ष सर्गेई लावरोव से भी मिलेंगी।