उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
F 16 fighter aircraft
F 16 fighter aircraft|google
टॉप न्यूज़

आख़िरकार खुद को आतंकिस्तान साबित कर ही दिया पाकिस्तान ने....!

पाकिस्तान के एक अर्थशात्री की माने तो पाकिस्तान के पास सिर्फ 9 दिन का तेल और 9 ही दिन का खाना बचा है ,मगर फिर भी पाकिस्तान हिंदुस्तान को परमाणु बम की धमकी देने से बाज़ नही आता है |

Divyanshu Singh

Divyanshu Singh

बाप मरे अँधेरे में, बेटे का नाम पॉवर हाउस...! ये कहावत बिलकुल फिट बैठती है पाकिस्तान के ऊपर | 26 फरवरी के भोर 3:30 बजे भारतीय वायु सेना ने बालाकोट(पाकिस्तान ) में जैश-ए-मुहम्मद के सबसे बड़े आतंकी ट्रेनिंग कैंप को निशाना बनाते हुए 300-350 के बीच आतंकियों को जहन्नुम की सैर पर भेज दिया | पहले तो 26 फरवरी के पूरे दिन पाकिस्तानी मीडिया उल जुलूल दावे करता रहा कि, ऐसा कोई हमला हुआ ही नही , फिर उनकी संसंद (पाकिस्तानी संसद ) में इमरान खान shame shame...! के नारे लगे , जैसे जैसे दिन गुजर रहा था, वहां के मीडिया में पाकिस्तानी नेताओं और अधिकारियों का उटपटांग बयान आता रहा ! जैसे भारतीय मिराज विमान आये जरुर, मगर हमारे F16 लड़ाकू विमान को देख पेलोड जंगल में ही गिरा कर भाग गए | किसी ने कहा की अँधेरा बहुत था इसलिए हम उनके स्ट्राइक का जवाब नही दे पाए | किसी ने कहा अभी मौसम ख़राब जैसे ही मौसम ठीक होगा हम पूरे विश्व की मीडिया को स्ट्राइक की जगह ले जाकर भारत के झूठ को बेनकाब करेंगे वगैरह वगैरह |

दिन भर विश्व मीडिया के सामने इज्ज़त की मिटटी पलीत करवाने के बाद अपने शांति के दूतों(पाल पोश कर बड़े किये आतंकी जो भारत के खिलाफ जिहाद करते ) के मौत का बदला लेने के लिए बौखलाए पाकिस्तान ने आखिकार बता ही दिया की वो सिर्फ नाम का पाकिस्तान है | असल में तो वो आतंकिस्तान है जहाँ आतंकी शरीफ नागरिकों में गिने जाते हैं | उसने आज 27 फरवरी की सुबह भारतीय आर्मी के सैन्य ठिकानो को निशाना बनाने के मकसद से हिंदुस्तान के अभिन्न अंग जम्मू एंड कश्मीर में F16 लड़ाकू विमान भेजे, मगर सेना की चौकसी के वजह से वो नाकामयाब रहे और और एक F16 को मार गिराया गया, इस दौरान भारतीय वायु सेना के मिग-21 को भी नुकसान हुआ और विंग कमांडर अभिनन्दन को पाकिस्तानी सेना ने अपनी कस्टडी में ले लिया|

ये तो बात पाकिस्तान की है जिसने भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाना चाहा और इसके साथ ही ये साबित कर दिया की वो सच में आतंकिस्तान है जो आंतकियों को अपनी ज़मीन से लेकर धन , ट्रेनिंग , और हथियार मुहैया करा कर हिंदुस्तान को चैन से नही रहने देना चाहता है | खुद को आंतक ग्रसित देश बताते बताते अब वो खुद आतंकियों की जन्नत बन बैठा है और इसका खामियाजा पूरे पाकिस्तान की जनता को भुगतना पड़ रहा है और अगर पाकिस्तान का आतंकवादियों के लिए यही रवैया रहा तो न जाने और कितनी पीढ़ियाँ इसका खामियाजा भुगतेंगी |

हिंदुस्तान जैसे शांतिप्रिय देश को बार बार अस्थिर करने के लिए आतंकवादियों का सहारा लेना ! और फिर उनके पाकिस्तानी होने से साफ़ इंकार कर देना ये पाकिस्तान के खून में शामिल है , अब हिंदुस्तान भी बिना संकोच किये जवाब देना सिख चुका है जिसका उदाहरण बालाकोट (पाकिस्तान ) का AIR STRIKE है | मगर 27 फरवरी की सुबह पाकिस्तानी एयर फोर्स भारतीय सैन्य ठिकानो को निशाना बनाने की नाकामयाब कोशिश ! पाकिस्तान को किस गर्त में ले जाएगी ,इसका अंदाज़ा शायद पाकिस्तान अभी नही लगा सकता क्यूंकि अब भारत सरकार को सिर्फ सवा सौ करोड़ भारतीयों का ही नही बल्कि पूरे विपक्ष का भी साथ मिल रहा है |