उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Ericsson India case
Ericsson India case
टॉप न्यूज़

Ericsson India case: अनिल अंबानी को SC से 550 करोड़ का झटका, जेल जाने की नौबत आई 

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर अनिल अंबानी रुपये नहीं देंगे तो तीन महीने की जेल होगी। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

सुप्रीम कोर्ट में लंबे समय से चल रहे (Reliance communication Vs Ericsson India) आर कॉम बनाम एरिक्सन इंडिया मामले में आज सुनवाई हुए है। जिसमें सुप्रीम कोर्ट ने आर कॉम के चेयरमैन अनिल अंबानी और दो अन्य निदेशकों को अवमानना का दोषी करार दिया है।

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अपने फैसले में साफ कहा कि आरकॉम को पैसे चुकाने के लिए अंडरटेकिंग देने के बाद भी कंपनी ने पैसे चूकते नहीं किए या करना नहीं चाहती थी। अनिल अंबानी व दो अन्य निदेशकों ने सुप्रीम कोर्ट में दी अंडरटेकिंग का उल्लंघन किया है। सुप्रीम कोर्ट ने साथ ही कहा, 'यह जानबूझकर किया गया है।

दरअसल आर कॉम को 453 करोड रुपये एरिक्सन इंडिया को देने हैं। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि कोर्ट अनिल अंबानी को पैसे चुकाने के लिए चार हफ्ते का समय देगी अगर अंबानी चार सप्ताह के भीतर रुपये नहीं दे पाये तो उन्हें तीन महीने के लिए जेल जाना होगा। सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले के दौरान अनिल अंबानी को कोर्ट में मौजूद रहने को कहा था। जस्टिस रोहिंटन फली नरीमन और जस्टिस विनीत सरन की बेंच ने यह फैसला सुनाया है।

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले के तीनों दोषियों पर एक-एक करोड़ रुपये का जुर्माना भी लगाया है, जो एक माह के भीतर जमा नहीं कराया गया, तो इसके लिए भी एक माह की जेल की सज़ा दी जाएगी।

क्या है मामला

दरअसल 23 अक्टूबर 2018 को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने आरकॉम (Reliance Communication) को कहा था कि वह एरिक्सन कंपनी (Ericsson India) को 15 दिसंबर तक 550 करोड़ रुपए की बकाया राशि का भुगतान करे। अगर आरकॉम (Reliance Communication) इस रकम के भुगतान में देरी करता है तो यह सालाना 12% ब्याज से बढ़ेगा और उसे भी देना होगा। सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के आदेश को पूरा करने में नाकाम रहने पर एरिक्सन कंपनी (Ericsson India) ने अवमानना याचिका दायर की थी। सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने उक्त याचिका पर अनिल अंबानी (Anil Ambani) को नोटिस जारी कर उन्हें व्यक्तिगत रूप से पेश होने के लिए कहा था।