उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Kanwal Jeet Singh Dhillon, Corps Commander of Chinar Corps, Indian Army
Kanwal Jeet Singh Dhillon, Corps Commander of Chinar Corps, Indian Army|Twitter
टॉप न्यूज़

Pulwama Attack: घाटी के आतंकियों को सेना का पैगाम- जिसने भी बंदूक उठाई, उसे मार दिया जाएगा

Pulwama Attack Army Press Confrence: 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सेना के आज पुष्टि करते हुए कहा कि CRPF काफिले पर हमला जैश ए मोहम्मद के आतंकियों ने किया था। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद सेना ने जवाबी करवाई करते हुए पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड को एनकाउंटर में मार गिराया। आतंकी हमले और उसके बाद की करवाई को लेकर आज सुरक्षाबलों की और से प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में चिनार कॉर्प्स के लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलन्न, श्रीनगर के आईजी एसपी पाणी, CRPF के आईजी जुल्फिकार हसन और GoC विक्टर फोर्स के मेजर जनरल मैथ्यू शामिल हुए थे। जहां उन्होंने जानकारी दी कि 100 घंटों के अंदर पुलवामा हमले का पहला बदला ले लिया गया है। पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड आतंकी कामरान को सेना ने मार गिराया है।

100 घंटे के अंदर घाटी में मौजूद जैश की लीडरशिप को खत्म कर दिया

चिनार क्रॉप्स के लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलन्न (lt Gen K J S Dhillon) ने जानकारी देते हुए कहा कि हम पिछले काफी समय से जैश आतंकियों पर नज़र बनाये हुए थे। जैश आतंकियों ने पाकिस्तान सेना की मदद से पुलवामा में हमला किया। हमने 100 घंटों के अंदर घाटी में मौजूद जैश आतंकियों को ख़त्म कर दिया है।

कश्मीरी पथरबाजों को शख्त हिदायत

लेफ्टिनेंट जनरल केजीएस ढिलन्न ने जम्मू कश्मीर की महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि वह अपने बच्चों को समझाएं और उन्हें सेना के सामने सरेंडर करने को कहें। सेना के पास सरेंडर पॉलिसी है। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो जो भी सेना के खिलाफ बंदूक उठाएगा उसे मार दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सेना नहीं चाहती कि कोई भी मासूम नागरिक घायल हो , लेकिन हमें कश्मीर को सुरक्षित करना है। सेना ने खुलासा करते हुए कहा कि पुलवामा हमले के पिछले ISI का हाथ था।

पाकिस्तानी आतंकवादियों को सख्त हिदायत

सेना से पाकिस्तानी आतंकवादियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि सेना कश्मीर से आतंकवाद विरोधी अभियानों को पूरी तरह नष्ट कर देगी। हम बहुत स्पष्ट हैं कि जो कोई भी कश्मीर घाटी में प्रवेश करेगा, वह जीवित वापस नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि जैश पाकिस्तान का पालतू कुत्ता है यहां कितने गाजी आए और कितने चले गए। हमने पिछले साल 58 आतंकियों को मारा था और जैश के 12 आतंकियों को मारा था।

आपको बता दें कि 14 फ़रवरी को जम्मू क्षीर के पुलवामा में जैश के आतंकियों ने CRPF के काफिले पर हमला कर दिया था। जिसमें CRPF के 49 जवान शहीद हो गए थे। जिसके बाद पूरा देश पाकिस्तान से इस बदले की मांग कर रहा है।