उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
मारा गया हमले का मास्टरमाइंड कामरान
मारा गया हमले का मास्टरमाइंड कामरान|twitter
टॉप न्यूज़

पुलवामा हमले का पहला बदला पूरा, मारा गया हमले का मास्टरमाइंड कामरान उर्फ गाजी राशिद

पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड और आतंकी संगठन जैश के कश्मीर का कमांडर कामरान उर्फ गाजी राशिद को सुरक्षाबल के सैनिकों ने मार गिराया है। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले के बाद पूरा देश गुस्से में हैं। सरकार ने सेना को आतंकियों का सफाया करने की खुली छूट दे रखी है। जिसके बाद सुरक्षाबल के जवान एक्शन में हैं और कश्मीर की घाटियों से आतंकवाद का सफाई अभियान शुरू हो चुका है। आज सुबह सुरक्षाबल के जवानों ने पुलवामा हमले में शामिल आतंकियों को धरदबोचा और एक बार फिर बड़ा एनकाउंटर शुरू हुआ। सेना ने इस एनकाउंटर में 2-3 आतंकियों को घेरा लिया जिसके बाद सेना ने उस बिल्डिंग को ही उड़ा दिया जिसमें आतंकी छुपे बैठे थे।

मारा गया कामरान उर्फ गाजी राशिद

सेना के इस हमले में पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड और जैश के कश्मीर का कमांडर आतंकी कामरान उर्फ गाजी राशिद और पुलवामा हमको को अंजाम देने वाला आतंकी आदिल अहमद डार को सेना ने मार गिराया। आतंकी कामरान CRPF हमले का मास्टरमाइंड था। वह मूल रूप से पाकिस्तान का रहने वाला था , आतंक का यह सरगना कश्मीर के भोले भाले लोगों का ब्रैनवॉश कर उन्हें जिहाद के लिए उकसाता था। बताया जा रहा है कि इस एनकाउंटर में सेना के 4 जवान और एक स्थानीय नागरिक की मौत हो गई है। ये मुठभेड़ पुलवामा जिले के पिंगलिना इलाके में चल रही है। एनकाउंटर के मद्देनजर पूरे क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है। एनकाउंटर में घायल हुए जवानों को एनकाउंटर वाले इलाके से निकाल कर श्रीनगर आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया था, लेकिन वहां पर उनकी मौत हो गई। एहतियात के तौर पर पुलवामा जिले में इंटरनेट बंद कर दिया है।

घंटों चली मुठभेड़

आपको बात दें कि, यह मुठभेड़ रविवार देर रात शुरू हुई जब सुरक्षा बलों, राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने जैश-ए-मुहम्मद (जेईएम) के आतंकवादियों की यहां छिपे होने की खुफिया सूचना मिलने के बाद पिंगलेना गांव को घेर लिया। रात में कुछ घंटो की मुठभेड़ के बाद आतंकियों के हौसले परस्त हो गए। सुबह 9:30 बजे मुठभेड़ दोबारा शुरू हुई जिसमें सेना को पहली कामयाबी मिली और सेना ने आतंक के दो कमांडरों को मौत के घाट उतार दिया।

49 जवान हुए थे शहीद

14 फरवरी की दोपहर करीब 3 बजे के लगभग पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने एक आत्मघाती हमले में CRPF के काफिले पर हमला किया था, इस हमले में CRPF के 49 जवान शहीद हो गए थे। इस आतंकी हमले के बाद पूरा देश पाकिस्तान से बदले की मांग कर रहा है। ये हमला जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी आदिल अहमद डार ने किया था, जो अपनी गाड़ी में बम फिट कर CRPF के काफिले में घुस गया था। इस हमला का मास्टरमाइंड कामरान उर्फ़ गाजी राशिद था , जो अब इस दुनिया में नहीं है। हमारे बहादुर सैनिकों के हौसले ने आतंकवाद के बौना कद को मिट्टी में मिल दिया।