उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
गूगल ने मधुबाला के जन्मदिन पर समर्पित किया डूडल  
गूगल ने मधुबाला के जन्मदिन पर समर्पित किया डूडल  
टॉप न्यूज़

झुग्गी बस्तियों से निकलकर मधुबाला कैसे बनी लाखों दिलों की धड़कन, जानें मधुबाला की 10 खास बातें 

Google Doodle celebrates Madhubala 86th birthday: बेइंतहा खूबसूरत मधुबाला का जन्म 14 फरवरी 1933 को दिल्ली में हुआ था। गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें याद किया है। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: (Google Doodle Madhubala) गूगल ने महान अदाकारा मधुबाला की 86वीं जयंती (Madhubala 86th Birthday) के मौके पर गुरुवार को डूडल (Google Doodle Madhubala) उनके नाम समर्पित किया। खास बात है कि आज के ही दिन दुनिया भर में वेलेंटाइन्स डे (Valentine Day) मनाया जाता है और इस मौके पर डूडल (Google Doodle Madhubala) में फिल्म 'मुगल-ए-आजम' के प्रतिष्ठित किरदार अनारकली की तस्वीर नजर आ रही है जिसे मधुबाला (Madhubala) ने निभाया था।

मधुबाला की 10 खास बातें

  1. बॉलीवुड की मर्लिन मुनरो कही जाने वाली मधुबाला (Madhubala) की परवरिश मुंबई (उस समय बॉम्बे) की झुग्गी बस्तियों में हुई थी।
  2. उन्होंने नौ साल की उम्र में बतौर बाल कलाकार काम करते हुए अपने परिवार की आर्थिक सहायता करनी शुरू कर दी थी।
  3. 1933 को दिल्ली में जन्मी मधुबाला (Madhubala) का असली नाम मुमताज जहां बेहम देहलवी था।
  4. इस डूडल को बेंगलुरू के कलाकार मुहम्मद साजिद ने बनाया है जिसमें मधुबाला की उनके प्रसिद्ध गीत 'प्यार किया तो डरना क्या' की एक नृत्य मुद्रा वाली एनिमेटेड तस्वीर नजर आ रही है।
  5. मधुबाला (Madhubala) ने अपनी पहली फिल्म बेबी मुमताज के रूप में की थी। इसके बाद 1947 में उन्होंने 'नील कमल' में मुख्य भूमिका निभाई।
  6. मधुबाला (Madhubala) ने उस समय के सफल अभिनेता अशोक कुमार, रहमान, दिलीप कुमार और देवानंद जैसे दिग्गज कलाकारों के साथ काम किया था।
  7. वर्ष 1950 के दशक के बाद उनकी कुछ फिल्में असफल भी हुईं। असफलता के समय आलोचक कहने लगे थे कि मधुबाला में प्रतिभा नहीं है बल्कि उनकी सुंदरता की वजह से उनकी फिल्में हिट हुई हैं।
  8. मधुबाला ने अपने माता-पिता और चार बहनों के लिए कड़ी मेहनत की। वह साल 1949 में नौ फिल्मों में नजर आईं जिसमें अशोक कुमार के साथ ब्लॉकबस्टर फिल्म 'महल' भी शामिल थी और इसी फिल्म में उन्होंने अपने शानदार अभिनय से लोगों का दिल जीत लिया।
  9. साल 1969 में मधुबाला (Madhubala) ने फिल्म 'फर्ज' और 'इश्क' का निर्देशन करना चाहा, लेकिन यह फिल्म नहीं बनी और इसी वर्ष अपना 36वां जन्मदिन मनाने के नौ दिन बाद 23 फरवरी,1969 को बेपनाह हुस्न की मल्लिका दुनिया को छोड़कर चली गईं। लंबी बीमारी के बाद 23 फरवरी 1969 को मात्र 36 साल की उम्र में मधुबाला का निधन हो गया।
  10. मधुबाला ने अपने करियर में 70 से अधिक फिल्मों में काम किया था। उन्होंने 'बसंत', 'फुलवारी', 'नील कमल', 'पराई आग', 'अमर प्रेम', 'महल', 'इम्तिहान', 'अपराधी', 'मधुबाला', 'बादल', 'गेटवे ऑफ इंडिया', 'जाली नोट', 'शराबी' और 'ज्वाला' जैसी फिल्मों में अभिनय से दर्शकों को अपनी अदा का कायल कर दिया ।