Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
Money Laundering Case: रॉबर्ट वाड्रा पूछताछ के लिए ईडी के समक्ष पेश हुए  
Money Laundering Case: रॉबर्ट वाड्रा पूछताछ के लिए ईडी के समक्ष पेश हुए  |Twitter
टॉप न्यूज़

Money Laundering Case: 19 लाख पाउंड सम्पत्ति का है मामला, रॉबर्ट वाड्रा पूछताछ के लिए ED के समक्ष पेश हुए

Money Laundering Case: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा धनशोधन के एक मामले में जांच के संबंध में बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश हुए।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

नई दिल्ली: Money Laundering Case: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) धनशोधन (Money Laundering Case) के एक मामले में जांच के संबंध में बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) के समक्ष पेश हुए। वाड्रा (Robert Vadra) मध्य दिल्ली के जामनगर भवन स्थित ED कार्यालय में शाम पौने चार बजे पहुंचे। वाड्रा के साथ उनकी पत्नी व कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) मौजूद थीं। हालांकि, रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) को ED कार्यालय छोड़ने के बाद प्रियंका (Priyanka Gandhi) वहां से चली गईं। जिसके बाद ED ने रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) से पूछताछ शुरू हुआ।

पहले चरण में पूछताछ

वाड्रा से पूछताछ के पहले चरण में ED उनसे मनोज अरोरा, सुमित चड्ढा, सी. थम्पी और संजय भंडारी के साथ रिश्ते के बारे में पूछताछ करेगी।

दूसरी पूछताछ 12 फ़रवरी को जयपुर में होगी

रोबर्ट वाड्रा से ED दूसरी पूछताछ 12 फ़रवरी को जयपुर में करेंगे। इस दिन ED वाड्रा की माँ से भी पूछताछ भी करेगी।दूसरे चरण में विदेशों में उनकी संपत्तियों के बारे में पूछताछ की जाएगी |

तीसरे चरण में पूछताछ

तीसरे चरण में रक्षा और पेट्रोलियम सौदे के बिचौलियों के संबंध में पूछताछ की जाएगी।

Money Laundering Case: 19 लाख पाउंड सम्पत्ति का है मामला, रॉबर्ट वाड्रा पूछताछ के लिए ED के समक्ष पेश हुए

आपको बता दें कि, यह मामला कथित रूप से गैरकानूनी तरीके से विदेशों में संपत्तियां रखने से संबंधित है। रॉबर्ट वाड्रा ने इस मामले में अग्रिम जमानत के लिए दिल्ली की अदालत की दरवाजा खटखटाया था। अदालत ने उन्हें निर्देश दिया था कि वह केंद्रीय जांच एजेंसी से जांच में सहयोग करें। सूत्रों ने कहा कि जब वाड्रा एजेंसी के समक्ष पेश होंगे तो उनसे लंदन में कुछ अचल संपत्तियों की खरीद और स्वामित्व से संबंधित सौदों के बारे में पूछा जाएगा। उनका बयान मनी लांड्रिंग रोधक कानून के तहत दर्ज किया जाएगा।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के जीजा रॉबर्ट वाड्रा ने इसपर सफाई देते हुए कहा है कि -

“यह कुछ नया नहीं है। यह सात-आठ साल से चल रहा है। लेकिन, पिछले पांच सालों में इस मुद्दे को तेज कर दिया गया है। ईडी के सभी नोटिस का हमने सही तरीके से जवाब दिया। मैं यहां देश में हूं, भाग नहीं रहा हूं। जब भी हमसे सवाल पूछे गए, मैंने और मेरी टीम ने सही जवाब दिया। जब मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है, तो मुझे डरना क्यों चाहिए?”
रॉबर्ट वाड्रा

दिल्ली की एक अदालत ने बीते शनिवार को रॉबर्ट वाड्रा को 16 फरवरी तक के लिए अंतरिम जमानत दे दी है , लेकिन अदालत ने उन्हें 6 फरवरी को स्वयं ED कार्यालय में उपस्थित होकर जाँच में शामिल होने दिया था। यह मामला लंदन में 12 ब्रायनस्टन स्कावयर पर 19 लाख पाउंड की संपत्ति की खरीद में कथित रूप से मनी लांड्रिंग जांच से संबंधित है।