उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी, भारत 78वें नंबर पर
दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी, भारत 78वें नंबर पर|Google
टॉप न्यूज़

दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी, भारत 78वें नंबर पर, जानें चीन और पाकिस्तान का स्थान 

दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी की जा चुकी है, भारत ने इस बार 2 पायदान छलांग लगाकर 78वें स्थान पर जगह बना ली है। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

भ्रष्टाचार का आंकलन करने वाली संस्था भ्रष्टाचार-निरोधक संगठन ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल ने वैश्विक भ्रष्टाचार 2018 का सूचकांक जारी किया है। जिसमें दुनिया के भ्रष्ट देशों की जानकारी दी गई है। इसमें सूची को बनाने में 180 देशों को शामिल किया गया था , जिसमें इस साल हमारे देश भारत को 78वें स्थान पर रखा गया। इस हिसाब से यह माना जा रहा है कि, भारत की स्थिति में बीते साल की अपेक्षा सुधार हुआ है। 180 देशों की इस सूची में भारत तीन स्थान के सुधार के साथ 78वें पायदान पर पहुंच गया है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, सोमालिया दुनिया का सबसे भ्रष्ट देश है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, सोमालिया दुनिया का सबसे भ्रष्ट देश है |

हालांकि यह सुधार बेहद मामूली है। साल 2017 में भारत को 40 अंक मिले थे , और साल 2018 में 41 अंक इस लिहाजे यह अंक किसी बड़े परिवर्तन को नहीं दर्शाता है। भ्रष्ट देशों के पायदान में भारत नीचे आया है लेकिन इसकी गिनती करना बेवकूफी होगी।

दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी, भारत 78वें नंबर पर
दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी, भारत 78वें नंबर पर
Google

अमेरिका, चीन और पाकिस्तान की स्थिति खराब

जहां भारत की रैंकिंग में सुधार हुआ है वहीं अमेरिका, हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान, चीन, रूस की स्थिति काफी खराब हो गई है। शीर्ष देशों में शुमार अमेरिका इस बार 20 बेहतर देशों की सूची से अमेरिका बाहर हो गया है। लिस्ट में चीन को 87वें पायदान पर जगह मिली है और पाकिस्तान बहुत ज्यादा बुरी स्थिति में है उसे 117वें स्थान पर रखा गया है। यानी इन देशों में भारत के मुकाबले भ्रष्टाचार ज्यादा है।

दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी, भारत 78वें नंबर पर
दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की सूची जारी, भारत 78वें नंबर पर
Google

सोमालिया सबसे भ्रष्ट

भ्रष्टाचार के मामले में सबसे खराब हालत सोमालिया की है। जबकि सबसे बेहतर देश डेनमार्क है। उसके बाद न्यूजीलैंड, फिनलैंड, सिंगापुर, स्वीडन और स्विट्जरलैंड का नंबर आता है। डोनाल्ड ट्रंप के राज में अमेरिका की स्थिति भी खराब हुई है। इस साल अमेरिका को 71 प्वाइंट मिले हैं और वह टॉप 20 देशों से बाहर हो गया है। इस साल अमेरिका की रैंक 22 है, जो पहले 18 थी।

भ्रष्टाचार क्या है ?

सार्वजनिक जीवन में स्वीकृत मूल्यों के विरुद्ध आचरण को भ्रष्ट आचरण (भ्रष्टाचार = भ्रष्ट + आचार) समझा जाता है। आम जीवन में इसे आर्थिक अपराधों से जोड़ा जाता है।

भ्रष्टाचार का आर्थिक विकास पर प्रभाव

  • भ्रष्टाचार के कारण आर्थिक विकास में मन्दी आती है क्योंकि भ्रष्टाचार बढने पर निजी निवेश घटने लगता है।
  • भ्रष्टाचार के कारण उत्पादक क्रियाओं से मिलने वाला लाभ (रिटर्न) कम हो जाता है।
  • भ्रष्टाचार के कारण असमानता में वृद्धि होती है।