Uday Bulletin
www.udaybulletin.com
प्रियंका गांधी वाड्रा कांग्रेस पार्टी महासचिव नियुक्त
प्रियंका गांधी वाड्रा कांग्रेस पार्टी महासचिव नियुक्त|Google
टॉप न्यूज़

लोकसभा चुनाव में जीत के लिए कांग्रेस का बड़ा दाव, प्रियंका गांधी वाड्रा पार्टी महासचिव नियुक्त

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा को पूर्वी उत्तर प्रदेश की पार्टी महासचिव नियुक्त किया।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) से पहले विपक्षियों को मात देने के लिए कांग्रेस पार्टी ने एक बड़ा दाव खेला है। कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बुधवार को अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को पूर्वी उत्तर प्रदेश की पार्टी महासचिव नियुक्त किया। प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) अब सक्रिय राजनीति में उतर आई हैं। कांग्रेस (Congress) ने उन्हें पार्टी का महासचिव बनाया गया है, उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी गई है। कांग्रेस के एक बयान में कहा गया है कि वह फरवरी के पहले सप्ताह में कार्यभार संभालेंगी। इसके साथ ही कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को तुरंत प्रभाव से महासचिव नियुक्त करके पश्चिमी यूपी की कमान सौंपी गई है।

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल को संगठन महासचिव की जिम्मेदारी सौंपी गई है जो पहले की तरह कर्नाटक के प्रभारी की भूमिका निभाते रहेंगे। संगठन महासचिव की जिम्मेदारी संभाल रहे अशोक गहलोत के राजस्थान का मुख्यमंत्री बनने के बाद वेणुगोपाल की नियुक्ति की गई है। उत्तर प्रदेश के लिए प्रभारी-महासचिव की भूमिका निभा रहे गुलाम नबी आजाद को अब हरियाणा की जिम्मेदारी दी गयी है।

माना जा रहा है कांग्रेस पार्टी लोकसभा चुनाव में प्रियंका गांधी पर राजनीतिक दाव खेलना चाहती है। उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा के गठबंधन के बाद कांग्रेस पार्टी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। ऐसे में पार्टी के किसी बड़े नेता को यह जिम्मेवारी सौपना जरुरी था। प्रियंका गांधी इस कांग्रेस की बैशाखी बन सकती है। वहीं राहुल गाँधी की बात करें तो तिने राज्यों में चुनाव जितने के बाद राहुल गाँधी विपक्षी सरकार पर अपनी मजबूत पकड़ बनाये हुए है। कांग्रेस राफेल सहित कई अन्य मुद्दों पर नरेंद्र मोदी सरकार को घेर रही है।

कांग्रेस के इस कदम पर बीजेपी प्रवक्ता सांबित पात्रा ने हम कर हल्लाबोला है, उन्होंने कहा उम्मीद है, वंशवाद को बढ़ावा देने के लिए कांग्रेस ही सब कुछ करेगी । वे परिवार को पार्टी मानते हैं जबकि भाजपा पार्टी को परिवार के रूप में मानती है। कांग्रेस ने स्वीकार किया है कि राहुल गांधी जी असफल रहे हैं। संबित पात्रा ने कहा, 'हर राज्य से नकारे जाने के बाद आखिर में कांग्रेस ने अब प्रियंका गांधी पर दांव खेला है। प्रियंका कांग्रेस के लिए बैसाखी की तरह है। न्यू इंडिया में यह सवाल पूछा जा रहा है कि नेहरू जी के बाद इंदिरा जी फिर राजीव, फिर सोनिया जी, फिर राहुल जी और अब प्रियंका जी।