उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे (Goa Women and Child Development Minister Vishwajit Rane)
गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे (Goa Women and Child Development Minister Vishwajit Rane)|IANS
टॉप न्यूज़

विश्वजीत राणे के बाद पर्रिकर ने भी झुठलाया ऑडियो रिकॉर्ड, अमित शाह से की जांच की मांग 

गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने बुधवार को कांग्रेस द्वारा जारी ऑडियो टैप के साथ छेड़छाड़ का दावा किया है।

Uday Bulletin

Uday Bulletin

पणजी: गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने बुधवार को कांग्रेस द्वारा जारी ऑडियो टैप के साथ छेड़छाड़ का दावा किया है। उन्होंने कहा कि पर्रिकर ने राफेल पर कभी बात ही नहीं की। कांग्रेस ने जो ऑडियो जारी किया है, उसमें कथित तौर पर राणे को यह कहते हुए सुना जा रहा है कि गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (Goa CM Manohar Parrikar) ने राफेल (Rafale Deal) सौदे से जुड़ी फाइलें अपने बेडरूम में रखी हैं।

इस मुद्दे पर राणे ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) से भी बात की और इसकी राष्ट्रीय एजेंसी से जांच कराने का अनुरोध किया।

पूर्व कांग्रेस नेता राणे ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि उनका सत्ताधारी और विपक्षी दलों के बीच चल रहे सत्ता के खेल के एक मोहरे के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री पर्रिकर (Goa CM Manohar Parrikar) से कथित ऑडियो बातचीत के स्रोत और यह कैसे वायरल हुआ, इसकी जांच कराने के लिए राज्य पुलिस के साथ-साथ केंद्रीय एजेंसियों की मदद लेने के लिए कहा है।

उन्होंने कहा, "जो ऑडियो वायरल हो रहा है, उसके साथ छेड़छाड़ की गई है। मुख्यमंत्री को पुलिस महानिदेशक (DGP) को इसकी जांच के निर्देश देने चाहिए। मनोहर पर्रिकर (Goa CM Manohar Parrikar) ने राफेल पर कभी बात नहीं की थी।"

राणे ने कहा, "वे (कांग्रेस) राफेल को सनसनीखेज करने की कोशिश कर रहे हैं। केंद्रीय एजेंसियों को इस मामले की जांच करनी चाहिए, ताकि चीजें सामने आ सकें। इस विषय पर चर्चा करने का कोई सवाल ही नहीं है।"

उन्होंने आगे कहा, "मैंने अमित शाह (Amit Shah) से इस ऑडियो की राष्ट्रीय एजेंसी से जांच कराने की मांग की है। मैं किसी भी तरह का स्पष्टीकरण देने के लिए तैयार हूं। क्योंकि यह एक ऐसी चीज है, जिसे योजनाबद्ध तरीके से मुझे निशाना बनाने और सरकार को अस्थिर करने के लिए तैयार किया गया है।"

राणे ने यह भी कहा कि वह ऑडियो के साथ कथित छेड़छाड़ की पुलिस शिकायत दर्ज नहीं कराएंगे। उन्होंने हालांकि पहले ही मुख्यमंत्री से इस मामले की जांच कराने का अनुरोध किया है।

वहीं, बुधवार सुबह कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक ऑडियो फाइल जारी की, जिसमें कथित तौर पर गोवा के स्वास्थ्य मंत्री राणे और एक अन्य व्यक्ति के बीच टेलीफोन पर बातचीत होती सुनाई दे रही है। इस व्यक्ति की पहचान नहीं बताई गई है। इस ऑडियो में राणे को कहते हुए सुना जा रहा है कि हाल ही में हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में पर्रिकर ने कहा था कि राफेल सौदे से जुड़ी फाइलें उनके निजी आवास के बेडरूम में हैं।

सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) से इस सौदे पर सफाई देने और उन फाइलों को सार्वजनिक करने के लिए कहा, "जिनका उपयोग पर्रिकर केंद्र और भाजपा को धमकी देने के लिए कर रहे हैं।"

कांग्रेस ने इससे पहले भी आरोप लगाया है कि एडवांस्ड पैंक्रियाटिक कैंसर से पीड़ित पर्रिकर मुख्यमंत्री पद छोड़ने से इनकार कर रहे हैं और इस विवादास्पद सौदे से संबंधित फाइलों के जरिए वह प्रधानमंत्री को 'ब्लैकमेल' कर रहे हैं।

राणे ने यह भी कहा कि उन्हें पिछले 16 महीनों से कांग्रेस 'बलि का बकरा' बना रही है। राणे के अनुसार, "सचिवालय में मंगलवार को पर्रिकर को देखकर कांग्रेस का मनोबल गिर गया है। बीमार चल रहे पर्रिकर चार महीनों के बाद मंगलवार को सचिवालय पहुंचे थे।

--आईएएनएस