उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
सुरक्षा बल के जवान
सुरक्षा बल के जवान|Google
टॉप न्यूज़

छत्तीसगढ़ में तैनात सुरक्षा बल के दो जवानों ने की आत्महत्या, मौत का कारण अज्ञात 

चुनावी ड्यूटी पर पहुंचे सीमा सुरक्षा बल के एक प्रधान आरक्षक की हृदयघात के कारण बुधवार सुबह मौत हो गई और दो जवानों ने आत्महत्या कर ली, पुलिस मौत के कारणों का पता लगाने में जुडी है। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

सुकमा: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाके में तैनात सुरक्षा बल के दो जवानों ने आत्महत्या कर ली, जबकि एक अन्य जवान की मौत हृदयाघात के कारण हो गई। सीआरपीएफ के एक जवान ने बुधवार सुबह अपने सर्विस रायफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली, तो एक महिला आरक्षक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। वहीं बीएसएफ के एक जवान की हृदयघात के कारण मौत हो गई।

आईएएनएस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार, छत्तीसगढ़ जिला पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने बताया, "जिला मुख्यालय छत्तीसगढ़ में स्थित सीआरपीएफ सेकंड बटालियन के मुख्यालय में तैनात आरक्षक कुलदीप सिंह ने आज सुबह अपने सर्विस रायफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली, जिसका कारण अज्ञात है।

आरक्षक कुलदीप सिंह हरियाणा के महेन्द्रगढ़ जिले के सतनाली गांव का रहने वाला है। पुलिस अधीक्षक आत्महत्या का कारण अज्ञात बता रहे है। मामले की जांच की जा रही है और परिवार वालों को इसकी सूचना दे दी गई है। शव परीक्षण के बाद आरक्षक कुलदीप सिंह के शव को गांव भेजा जाएगा।"

इस बीच, चुनावी ड्यूटी पर पहुंचे सीमा सुरक्षा बल के एक प्रधान आरक्षक की हृदयघात के कारण बुधवार की सुबह मौत हो गई।

मीणा ने बताया, "प्रधान आरक्षक महेन्द्र सिंह उत्तराखंड के अल्मोड़ा का रहने वाला था। मृतक जवान चुनावी ड्यूटी पर तोगपाल गया हुआ था। आज सुबह तबीयत बिगड़ गई और उसे इलाज के लिए जगदलपुर मेडिकल कॉलेज लाया जा रहा था। लेकिन रास्ते में हृदयघात के कारण उसकी मौत हो गई।"

आपको बता दें, इसके अलावा, दोरनापाल थाने में पदस्थ एक महिला आरक्षक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) विवेक शुक्ला ने बताया कि महिला आरक्षक आशा मंगलवार रात ड्यूटी करने के बाद घर जाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उन्होंने बताया कि मृतक महिला आरक्षक का पति भी सहायक आरक्षक है। आत्महत्या के मामले की जांच की जा रही है।