यूपी के बाँदा में हुई इंटरनेट सेवाएं बंद, मोबाइलों पर हो रहा मैसेज फ्लैश

किसी भी समुदाय या समूह को कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी।
यूपी के बाँदा में हुई इंटरनेट सेवाएं बंद, मोबाइलों पर हो रहा मैसेज फ्लैश
internet shut down in BandaMobile Screenshot
Summary

अयोध्या मामले को लेकर सरकार लगातार ऐसे कदम उठा रही है जिसकी वजह से कोई अनहोनी न घटने पाए, इसी को लेकर सरकार ने मध्यप्रदेश की सीमा से जुड़े हुए जिले बाँदा के कुछ सीमावर्ती इलाकों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी है।

इंटरनेट भावनाओं को व्यक्त करने का आज सशक्त माध्यम बन चुका है सोशल मीडिया और अन्य साधन न सिर्फ मनोरंजन के लिए है बल्कि इनका उपयोग सूचना और समाचार के आदान प्रदान के लिए बेहद अहम है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या फैसले को लेकर सरकार बेहद संजीदा है इसी वजह से मध्यप्रदेश से जुड़े हुए उत्तर प्रदेश के जिले बाँदा के कुछ सीमावर्ती इलाकों में इंटरनेट सेवाओ पर पूरा विराम लगा दिया गया है।

मोबाइल इंटरनेट प्रयोगकर्ताओं ने तमाम लोगों से यह रिपोर्ट किया कि जैसे ही हम मोबाइल स्विच ऑन करते है मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर की तरफ से सरकार के निर्देशों का अनुपालन करते हुए इंटरनेट की सेवाओ को अग्रिम आदेश तक बंद बंद रखने का आदेश प्रसारित किया जा रहा है जिसको लेकर उपभोक्ताओं में भारी रोष है।

स्थानीय लोगों के अनुसार सरकार भले ही ऐतिहात बरते, लेकिन यहाँ ऐसी कोई समस्या नही है, यहाँ समाज मे सभी लोग मिलजुलकर रहने में यकीन रखते है, यहाँ दिनांक 10 नवंबर को मुस्लिम त्योहार बेहद संजीदगी और हर्षोल्लास के साथ मनाया गया और किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना की कोई समस्या सामने नही आई है, इस पर लोगों द्वारा सरकार के इस प्रतिबंध की कड़ी आलोचना की जा रही है।

जिले में अयोध्या निर्णय को लेकर दो सोशल मीडिया दुरुपयोग के मामले सामने आए है, जिनको पुलिस ने सजगता के साथ निबटाकर संविधान संगत धाराओं के तहत कानूनी कार्यवाही कर दी है, इसके अलावा जिले भर से इस मामले को लेकर कोई घटना सामने नही आई है।

भड़काऊ पोस्ट के लिए बांदा में 2 गिरफ्तार:

arrested for inflammatory post
arrested for inflammatory postIANS

बांदा जिले की पुलिस ने सोशल मीडिया में एक समुदाय विशेष के खिलाफ भड़काऊ पोस्ट डालने के कथित आरोप में रविवार को दो और युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक गणेश प्रसाद साहा ने बताया, "अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय द्वारा फैसला सुनाए जाने के बाद सोशल मीडिया फेसबक पर एक समुदाय विशेष के खिलाफ भड़काऊ पोस्ट डालने के आरोप में जसपुरा पुलिस ने मदन सिंह और नरैनी पुलिस ने आशीष उपाध्याय नामक युवक को गिरफ्तार किया है।"

उन्होंने बताया कि इसके अलावा अतर्रा थाने के गुमाई गांव निवासी एक युवक प्रदीप अवस्थी को भड़काऊ पोस्ट के लिए रामपुर जिले की पुलिस ने अपने यहां गिरफ्तार कर लिया है, जिसे लेने बांदा पुलिस वहां गई हुई है।

उन्होंने बताया कि "सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए बांदा शहर की अलीगंज पुलिस चौकी में एक कम्युनिकेशन हब बनाया गया है। किसी भी समुदाय या समूह को कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी।"

उल्लेखनीय है कि बदौसा पुलिस ने शनिवार शाम फेसबुक में इसी तरह की पोस्ट के आरोप में जयकरन सोनकर नामक युवक को गिरफ्तार किया था।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com