गूगल प्ले स्टोर से पेटीएम ऐप हटाया गया लेकिन कुछ घंटे बाद आया वापस

पेटीएम भारत का पहला ऐसा ऐप है जिसके जरिये लोग मोबाइल/डीटीएच रिचार्ज/ बस बुकिंग के साथ साथ शॉपिंग इत्यादि भी कर सकते हैं।
गूगल प्ले स्टोर से पेटीएम ऐप हटाया गया लेकिन कुछ घंटे बाद आया वापस
paytm removed from play storeGoogle Image

बीते दिन पेटीएम ऐप अचानक से गूगल प्ले स्टोर से गायब हो गया, हालांकि कुछ घंटे बाद यह ऐप वापस आ गया

अचानक गायब हुआ ऐप:

गूगल प्ले स्टोर में किसी व्यवस्थित ऐप का गायब होना कोई सामान्य बात नही है लोगों ने इस पर अपनी चिंता जाहिर करनी शुरू कर दी। दरअसल 18 सितंबर के दिन अचानक से ऐप गूगल प्ले एप स्टोर से गायब हो गया हालांकि इस बारे में कंपनी ने पहले से कोई अधिसूचना जारी नहीं की थी जिसकी वजह से लोगों के मन मे संदेह पैदा हो गया। लोगों ने सोशल मीडिया पर इस बारे में चर्चा करना शुरू कर दिया। इस मामले में पहले से चायनीज एप्स पर हुई कार्यवाही के मामले को बताकर लोगों ने राग अलापने शुरू कर दिए।

एक थ्योरी यह है:

दरअसल 18 सितम्बर को सोशल मीडिया ट्विटर पर पेटीएम नम्बर वन की पोजिशन पर ट्रेंड कर गया और इस मामले में एक थ्योरी यह बतायी जा रही है कि गूगल ने अपने प्ले स्टोर से पेटीएम के एप को इस लिए बाहर का रास्ता दिखा दिया क्योंकि पेटीएम के द्वारा लगातार पालिसी वायलेशन किया जा रहा था। पेटीएम के द्वारा लगातार ऑनलाइन गैम्बलिंग जैसी क्रियाकलापों को बढ़ावा दिया जा रहा था। जिसके बारे में गूगल पहले भी कई बार पेटीएम को सचेत कर चुका था।

गूगल प्ले स्टोर ने पेटम को क्यों किया अनलिस्ट?

Paytm ने आईपीएल के मद्देनजर यूजर्स को क्रिकेट के साथ जुड़कर कैशबैक प्राप्त करने के लिए पेटीएम क्रिकेट लीग लॉन्च की थी। यह गेम ग्राहकों को क्रिकेट के प्रति जुनून में इंगेज होने और कैशबैक जीतने के लिए था। इस गेम के तहत यूजर्स हर ट्रांजैक्शन के लिए खिलाड़ियों के स्टीकर्स प्राप्त करते हैं। इसे कलेक्ट करने के बाद उन्हें कैशबैक मिलता है।

एक बात और जो प्रतिस्पर्धा से जुड़ी है पेटीएम देश का सबसे बड़ा भुगतान ऐप है और इसकी गूगल पे के साथ कड़ी प्रतिस्पर्धा भी है। इसलिए गूगल PAYTM पर कड़ी नजर रखता है।

पेटीएम ने कहा बेहद सामान्य बात:

हालांकि पेटीएम ने अपने सोशल मीडिया में अपना बयान जारी करते हुए बताया कि ऐप का हटना एक सामान्य प्रक्रिया है जिसके तहत ऐप को अपडेट किया जा रहा है ताकि लोगों को और बेहतर एक्सपीरियंस मिल सके। हालांकि यह बात कितनी सच है यह गूगल और पेटीएम ही जान सकते है लेकिन यह भी सच है कि गूगल पेटीएम को पहले भी ऑनलाइन कसीनो जैसी कार्यविधि के लिए वार्निंग जारी कर चुका है। हालांकि यहां आपको बताते चले कि पेटीएम ने अपने बयान में यह बताया कि हम जल्द ही वापस होंगे और आपका पूरा का पूरा पैसा सुरक्षित है।

पेटीएम ने जानाकरी दी, भैया दूसरे ग्रह नही गए है वापस आएंगे

अन्य एप सुरक्षित है:

यहां पर आपको बताते चले कि प्ले स्टोर पर पेटीएम के अन्य एप जैसे पेटीएम माल, पेटीएम बिजनेस, पेटीएम मनी, पेटीएम माल स्टोर मैनेजर जैसे एप उपस्थित है। वहीँ जिनके फ़ोन में पहले से ही पेटीएम एप इंस्टॉल है वह लगातार काम करता रहेगा। उसके कार्य करने में कोई बाधा नहीं आएगी। हालांकि इस घटना के बाद पेटीएम का नुकसान होना तय है। कोरोना काल मे लोग पहले ही आर्थिक तंगी की वजह से जूझ रहे है उसके बाद पेटीएम का गूगल प्ले स्टोर से गायब होना असमंजस पैदा करता है। जाहिर सी बात है कि पेटीएम के प्रयोगकर्ता इस मामले के बाद वॉलेट में रखी हुई धनराशि और पेमेंट बैंक में जमा पैसे को निकालना शुरू कर देंगे।

लेकिन देर शाम तक पेटीएम ने ट्वीट करके जानकारी दी कि एप दोबारा प्ले स्टोर में उपलब्ध है.....

लोगों ने सोशल मीडिया पर मैदान मार दिया:

इस मामले को लेकर सोशल मीडिया में मीम्स की बाढ़ सी आ गयी। लोगों ने इस मामले पर मजाक उड़ाना शुरू कर दिया। लोगों ने फोन पे गूगल पे को आधार बनाकर लिखा।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com