क्या है वॉट्सऐप का फसाद, सोशल मीडिया पर बवाल कट रहा है

वॉट्सऐप के खिलाफ बड़े-बड़े लोगों ने मोर्चा खोल दिया है, बैन लगाने की हो रही मांग
क्या है वॉट्सऐप का फसाद, सोशल मीडिया पर बवाल कट रहा है
क्या है वॉट्सऐप का फसादGoogle Image

अगर सही मायनों में देखे तो वॉट्सऐप शोसल मीडिया की दुनिया का बादशाह था और है भविष्य को किसी ने नही देखा, लेकिन अब वॉट्सऐप अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर चर्चा में है, जिसको लेकर घमासान की स्थिति बनी हुई है

माननी पड़ेगी वॉट्सऐप की शर्तें:

इस सारे बवाल की जड़ है वॉट्सऐप द्वारा रोल आउट की गई नई पॉलिसी, वॉट्सऐप के द्वारा लंबे वक्त से यह जानकारी प्रसारित की जा रही थी कि आने वाले वक्त में वॉट्सऐप उपयोगकर्ताओं को उसकी नई शर्तो को मानना होगा। अगर उपयोगकर्ता इन शर्तों को स्वीकार नही करते तो तो उन्हें वॉट्सऐप से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। दरअसल शुरुआत में वॉट्सऐप की यह पॉलिसी रही है कि वह वॉट्सऐप उपयोगकर्ताओं के बीच हुई बातचीत और शेयरिंग को एंड टू एंड इनक्रिप्शन मुहैया कराता था। जिससे लोगों की पूरी गोपनीयता बनी रहती थी लेकिन इस मामले में वॉट्सऐप पर कई बार आरोप लगते रहे कि वह लोगों की जानकारी को उपयोग कर रहा है। नई पालिसी में वॉट्सऐप ने एक शर्त रख दी है कि वह आपके डेटा को खुद और अपने सहयोगी लोगों के लिए रख सकता है अर्थात अपने सहयोगियों के साथ साझा कर सकता है।

क्या अपनी मनमर्जी थोप रहा है वॉट्सऐप?

अगर बीती कुछ घटनाओं को देखा जाए तो लोगों की यह प्रतिक्रिया सामने आयी है कि इंस्टैंट मैसेजिंग प्रोवाइडर वॉट्सऐप बीते कुछ दिनों से अपनी मनमर्जी लोगों पर थोपने पर लगा हुआ है। फिर चाहे वह लोगों की गोपनीयता को भंग करने का आरोप हो या फिर लोगों की निजी जानकारियां थर्ड पार्टी को सौंपने को लेकर हो, दरअसल वॉट्सऐप में अभी हाल में ही अपनी नई प्राइवेसी पालिसी को रोल आउट किया है जिसके चलते यूजर्स को हिदायत दी जा रही है कि वह वॉट्सऐप प्रयोग करने के लिए इन पॉलिसीज पर अपनी सहमति दर्ज कराए, अगर उपयोगकर्ता इनको नकारते है तो उस स्थिति में 8 फरवरी के बाद उनका व्हाट्सएप एकाउंट समाप्त किया जा सकता है।

आपको पता होगा, बीते कुछ वर्ष पहले ही वॉट्सऐप को फेसबुक द्वारा खरीदा जा चुका है इसलिए वॉट्सऐप अब फेसबुक बिज़नेस घराने का हुआ, वैसे भी फेसबुक पर पहले ही लोगों के डेटा चोरी और उसका अन्य जगहों पर दुरुपयोग करने के आरोप लगते रहे है अब इस मामले में फेसबुक ने वॉट्सऐप के कंधे पर बंदूक रखकर चलाई है जिसमें लोगों से यह सहमति देने की बात कही गयी है कि वह लोगों के डेटा को फेसबुक के साथ शेयर कर सकता है। जिसको वह बिजनेस इत्यादि के लिए प्रयोग कर सकता है।

अन्य सोशल मीडिया द्वारा लिए गए डाटा का विवरण:

एलोन मस्क ने भी बवाल काट दिया:

टेस्ला का नाम तो आपने सुना ही होगा, इसके मालिक है एलोन मस्क, हाल में ही दुनिया के सबसे रईस आदमी बने है, माने की दुनिया मे इनसे ज्यादा पैसे वाला हाल में कोई नही है। इन्होंने भी कई बार पॉलिसीज को लेकर बयान दिए है। इन्होंने अब वॉट्सऐप की पॉलिसी को लेकर बयान दिया है। एलोन मस्क ने अपने ट्विटर पर लिखा "सिग्नल का प्रयोग करें"

इसके बाद तो मानो बवाल हो गया, लोगों के मन मे सिग्नल एप के बारे में जानकारी को लेकर होड़ मच गई। इस पर खुद सिग्नल ने आकर अपने बारे में बताया कि वह डोनेशन पर चलने वाला सीधा साधा मैसेजिंग एप है जिसको पूरी तरह प्राइवेसी केंद्रित करके बनाया गया है। अपनी खूबियों के कारण भारत समेत अन्य देशों में वॉट्सऐप को पछाड़ कर सिग्नल आगे निकल गया, सिग्नल के साथ होते बवाल के बाद वॉट्सऐप ने भी अपनी पॉलिसीज को लेकर बयान दिया लेकिन उसका कोई खास फर्क पड़ता नही नजर आ रहा है। वॉट्सऐप का नुकसान होना तय है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com