उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
IND Vs AUS
IND Vs AUS|Google
क्रिकेट

IND Vs AUS : भारत को 15 साल बाद टेस्ट मैच में मिली शानदार जीत, सीरीज में 1-0 की बढ़त 

इस जीत के आधार पर भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

एडिलेड | भारतीय क्रिकेट टीम ने सोमवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच में 31 रनों से जीत हासिल की। एडिलेड ओवल मैदान पर भारत को 15 साल बाद टेस्ट मैच में जीत मिली है। इससे पहले, 2003 में इस मैदान पर खेले गए टेस्ट मैच में जीत हासिल हुई थी।

इस जीत के आधार पर भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है।

भारतीय टीम ने अपनी दूसरी पारी के आधार पर आस्ट्रेलिया को 323 रनों का लक्ष्य दिया था। अपने निचले क्रम के बल्लेबाजों के अच्छे प्रदर्शन के दम पर आस्ट्रेलिया टीम लगभग लक्ष्य के करीब पहुंच गई थी लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने उसे इस लक्ष्य को हासिल नहीं करने दिया।

भारतीय गेंदबाजों ने आस्ट्रेलिया की दूसरी पारी को 291 रनों पर समेट दिया और टीम को 31 रनों से जीत दिलाई।

आस्ट्रेलिया ने पांचवें दिन सोमवार को भोजनकाल तक छह विकेट के नुकसान पर 186 रन बना लिए थे। इसके बाद दूसरे सत्र में कप्तान टिम पेन (41) और कमिंस (28) ने 31 रन जोड़कर टीम को 187 के स्कोर तक पहुंचाया। इसी स्कोर पर जसप्रीत बुमराह ने पेन को ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट कर पवेलियन की राह दिखाई।

आस्ट्रेलिया को उसके निचले क्रम के बल्लेबाज संभालने की कोशिश कर रहे थे। इसी क्रम में पेन के आउट होने के बाद कमिंस का साथ देने आए स्टॉर्क (28) ने आठवें विकेट के लिए 41 रन जोड़े और टीम को जीत के करीब पहुंचाने की कोशिश की लेकिन मोहम्मद शमी ने यहां टीम को बड़ा झटका दिया।

शमी ने स्टॉर्क को 228 के स्कोर पर पवेलियन की राह दिखाई। वह विकेट के पीछे खड़े पंत के हाथों लपके गए। भारत को जीत के लिए अब दो विकेट चाहिए थे।

यहां कमिंस ने नाथन ल्योन (38) के साथ मिलकर भारतीय टीम के गेंदबाजों को थोड़ा परेशान किया, लेकिन आखिरकार सफलता हासिल करते हुए 259 के स्कोर पर टीम कमिंस का विकेट गिराने में सफल रही। कमिंस को बुमराह ने कोहली के हाथों कैच आउट कर पवेलियन भेजा।

भारत को ऐतिहासिक जीत के लिए अब केवल एक विकेट की जरूरत थी लेकिन ल्योन ने इस जीत को आसान नहीं होने दिया। वह किसी तरह संभलकर बल्लेबाजी करते हुए आस्ट्रेलिया को लक्ष्य तक पहुंचाने की कोशिश में थे और वह ऐसा करने में सफल भी हो जाते।

ल्योन ने जोश हेजलवुड (13) के साथ 32 रन जोड़कर टीम को 291 के स्कोर पर पहुंचा दिया था और आस्ट्रेलिया को जीत के लिए 31 रनों की दरकार थी लेकिन इसी स्कोर पर अश्विन ने हेजलवुड का विकेट लेकर भारत को जीत दिलाई। वह लोकेश राहुल के हाथों लपके गए। आस्ट्रेलिया की पारी 291 रनों पर समाप्त हो गई।

इस पारी में भारत के लिए अश्विन, बुमराह और शमी ने तीन-तीन विकेट लिए, वहीं इशांत को एक सफलता मिली।

--आईएएनएस