दूरदर्शन पर भड़क गए दर्शक, लोगों ने रामायण के सीन काटकर दिखाने पर जताया रोष 

कोरोना महामारी के बीच रामानंद सागर कृत रामायण संजीवनी बूटी की तरह कार्य कर रही है, यही कारण है कि दूरदर्शन के रामायण प्रसारण ने बीते पिछले पांच सालों के टीआरपी के सारे रिकार्ड तोड़ दिए है 
दूरदर्शन पर भड़क गए दर्शक, लोगों ने रामायण के सीन काटकर दिखाने पर जताया रोष 
Ramayan SerialGoogle

सीन काटा तो जनता गुस्साई :

रामायण धारावाहिक इन दिनों देश मे सबसे ज्यादा देखा जाने वाला धारावाहिक बन गया है। इस सीरियल ने टेलीविजन के संसार मे पिछले पांच सालों के सभी रिकार्डो को ध्वस्त कर दिए हैं। शायद यही कारण है कि लोग इसे मास्टर पीस की तरह देख रहे है लेकिन पिछले प्रसारण में लोगों को दूरदर्शन से शिकायत हो गयी। दरअसल पिछले दिन के एपिसोड में दूरदर्शन ने बिना किसी पर्याप्त कारण के एक सीन में कटौती कर दी जिसको लेकर लोगों के तमाम रिएक्शन सामने आए है।

बाली वध के कुछ हिस्से कटे :

दरअसल बवाल रामायण के एक सीन से शुरू हुआ जहां राम के निर्देशन पर सूर्य पुत्र सुग्रीव अपने बड़े भाई बाली को द्वंद युद्ध के लिए ललकारते है। एक बार पराजित होने के बाद श्री राम दोबारा सुग्रीव को युद्ध के लिए भेजते है वहीँ युक्ति से श्री राम किसी कुशल शिकारी की भांति छुपकर बाली के ह्रदय को भेद देते है उसके बाद श्री राम और बाली संवाद होता है और उसके बाद बाली की पत्नी तारा अपने पति के लिए विह्वल होती है। बस दूरदर्शन ने यहीं कुछ गलती कर दी। दरसअल दूरदर्शन ने श्री राम और तारा का पूरा का पूरा संवाद काट दिया। लोगों के अनुसार इस संवाद से नई पीढ़ी को अध्यात्म और तत्व का अच्छा खासा ज्ञान मिल सकता था। लेकिन दूरदर्शन ने यह काटकर गलत कर दिया।

लोग इतने साल बाद भी इंस्पायर हो रहे है :

अब इसे धर्म की प्रधानता कहें या फिर राम का अद्भुत चरित्र, 80 के दशक में बना यह धारावाहिक आज के युवाओं को खासकर जिनका अभी-अभी विवाह हुआ है वह अपने वैवाहिक जीवन मे लक्ष्मण और उर्मिला के बलिदान और समर्पण की भावना को ज्यादा तरजीह देते नजर आ रहे हैं।

अभी तक इस मुद्दे पर दूरदर्शन की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com