उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Basant Panchami
Basant Panchami|Google
अध्यात्म

Basant Panchami 2019: ज्योतिष के अनुसार जाने वसंत पंचमी पर कैसे करें माँ सरस्वती की पूजा 

विद्या की देवी माँ शारदे की पूजा वसंत पंचमी के दिन की जाती है। इस दिन बच्चे बूढ़े सभी माँ सरस्वती की आराधना करते हैं। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

Basant Panchami 2019: आज वसंत पंचमी है। आज देश भर में माँ सरस्वती की पूजा की जाती है। वसंत पंचमी का त्यौहार हर साल माध महीने के शुक्ल पक्ष के पांचवें दी मनाया जाता है। मन जाता है इस दिन ज्ञान, विद्या, संगीत, कला की देवी सरस्वती का जन्म हुआ था। इस लिए लोग आज के दिन माँ सरस्वती की पूजा करते हैं। आज हम आपको बताने जा रहें है कि राशि अनुसार माँ सरस्वती को कैसे प्रसन्न करें -

कैसे करें पूजा

  • बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की पूजा करने के लिए सबसे पहले सरस्वती की प्रतिमा रखें।
  • कलश स्थापित कर सबसे पहले भगवान गणेश का नाम लेकर पूजा करें।
  • सरस्वती माता की पूजा करते समय सबसे पहले उन्हें आमचन और स्नान कराएं।
  • सरस्वती माँ को सफ़ेद रंग प्रिये है, इसलिए मां सरस्वती की पूजा में सफ़ेद कमल का फूल जरूर चढ़ाये।
  • सफ़ेद के अलावा माता को पीले रंग के फूल अर्पित करें, माला और सफेद वस्त्र पहनाएं फिर मां सरस्वती का पूरा श्रृंगार करें।
  • माता के चरणों पर गुलाल अर्पित करें।
  • सरस्वती मां पीले फल या फिर मौसमी फलों के साथ-साथ बूंदी चढ़ाएं।
  • माता को मालपुए और खीर का भोग लगाएं।
  • सरस्वती ज्ञान और वाणी की देवी हैं। पूजा के समय पुस्तकें या फिर वाद्ययंत्रों का भी पूजन करें।
  • कई लोग बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती का पूजन हवन से करते हैं। अगर आप हवन करें तो सरस्वती माता के नाम से 'ओम श्री सरस्वत्यै नम: स्वहा" इस मंत्र से एक सौ आठ बार जाप करें।
  • ऐसी मान्यता है कि अगर कोई विषय आपको कठिन लगता है तो उसकी उत्तर पुस्तीका मां सरस्वती के चरणों में रख दें। इससे लाभ होगा।
Basant Panchami
Basant Panchami
Google

इस मंत्र का करें जाप, संरस्वती मां देगी लाभ

या कुन्देन्दुतुषारहारधवला या शुभ्रवस्त्रावृता

या वीणावरदण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना।

या ब्रह्माच्युत शंकरप्रभृतिभिर्देवैः सदा वन्दिता

सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा॥

शुक्लां ब्रह्मविचार सार परमामाद्यां जगद्व्यापिनीं

वीणा-पुस्तक-धारिणीमभयदां जाड्यान्धकारापहाम्‌।

हस्ते स्फटिकमालिकां विदधतीं पद्मासने संस्थिताम्‌

वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धिप्रदां शारदाम्‌॥२॥

Basant Panchami
Basant Panchami
Google

राशि के अनुसार करें पूजा

मेष राशि: बसंत पंचमी के दिन मेष राशि वाले मां सरस्वती को बेसन के लड्डू अथवा बेसन की बर्फी, बूंदी के लड्डू अथवा बूंदी का प्रशाद चढ़ाएं।

वृषभ राशि: वृषभ राशि वाले अगर सरस्वती माता को पीले फल, मालपुए और खीर का भोग लगाते हैं तो इससे माता सरस्वती शीघ्र प्रसन्न होती हैं।

मिथुन राशि - मिथुन राशि वाले माँ सरस्वती को सफ़ेद कलम अर्पित करें। जीवन भर फल मिलेगा।

कर्क राशि - श्रेष्ठ सफलता प्राप्ति के लिए कर्क राशि वाले देवी सरस्वती पर हल्दी चढ़ाकर उस हल्दी से अपनी पुस्तक पर "ऐं" लिखें।

सिंह राशि - सिंह राशि वाले आज के दिन पुखराज और मोती धारण करना बहुत लाभकारी होता है।

कन्या राशि - कन्या राशि वाले माँ सरस्वती को नीले रंग की कलम अर्पित करें। माँ सवस्वती की कृपा बनी रहेगी।

तुला राशि - तुला राशि वाले मां सरस्वती की आरती करें और दूध, दही, तुलसी, शहद मिलाकर पंचामृत का प्रसाद बनाकर मां को भोग लगाएं। ऐसा करने से आपके मन को शांति मिलेगी।

वृशिका राशि - वृशिका राशि आज के दिन माँ सरस्वती को रेश्मी कपडे चढ़ाये।

धनु राशि - धनु राशि वाले आज के दिन सफ़ेद चंदन लगाए तो लोगो को सफ़ेद कपड़े का दान करें।

मकर राशि - मकर राशि वाले कन्याओं को दान करें और उन्हें पैर छू कर प्रणाम करें।

कुंभ राशि - कुंभ राशि वाले आज के दिन गरीबों को खीर खिलाएं।

मीन राशि - मीन राशि वाले आज के दिन सफलता पाने के लिए माँ सरस्वती को काळा या नील रंग के कलम अर्पित करें।