उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
पूजा में पान के पत्ते का प्रयोग 
पूजा में पान के पत्ते का प्रयोग |उदय बुलेटिन 
अध्यात्म

पूजा के दौरान करते हैं पान के पत्तों का इस्तेमाल तो इन बातों का अवश्य रखें ध्यान 

पूजन में पान के सही पत्ते का चयन है आवश्यक

Puja Kumari

Puja Kumari

हिंदू धर्म में पूजा पाठ का काफी ज्यादा महत्व होता है पर कई लोगों को इसके बारे में सही जानकारी नहीं होती है जिसकी वजह से वो पूजा के दौरान कई छोटी-छोटी गलतियां कर देते हैं। पूजा पाठ की बात की जाए तो सबसे पहले पूजन सामग्री की बात आती है जिसके बारे में जानना हर किसी के लिए बेहद ही जरूरी होता है। अगर आप भी पूजा पाठ में ध्यान लगाते होंगे तो आपको ये पता होना चाहिए कि पूजन सामग्री में पान का एक विशेष स्थान होता है, जिसे संस्कृत में तांबूल भी कहा जाता है। आमतौर पर पान को हम सभी लोग खाने के लिए ही जानते हैं मगर शास्त्रों में पान के पत्तों को बहुत ही शुभ माना गया है जिसकी वजह से इसका प्रयोग हम पूजन के दौरान करते हैं।कहा तो ये भी जाता है कि पान के पत्तों में कई सारे देवी-देवताओं का वास होता है जो कि वाकई में बेहद अद्भुत है और यही कारण है कि सिर्फ पूजन में ही नहीं बल्कि विभिन्न कर्म-कांडों में किसी ना किसी रूप से पान का प्रयोग किया जाता है।

पूजा में पान के पत्ते का प्रयोग 
पूजा में पान के पत्ते का प्रयोग 
google

विस्तृत रूप से बात करें तो पान के पत्ते के ठीक ऊपरी हिस्से पर इन्द्र और शुक्र देव विराजमान होते हैं, वहीं मध्य वाले हिस्से में माता सरस्वती का वास होता है और इसके बिल्‍कुल नीचे वाले हिस्से पर देवी लक्ष्मी बैठी होती हैं। इसके अलावा पत्ते के दो हिस्सों को जो एक नली से जोड़ता है उसके अंदर विश्व के पालनहार भगवान शिव का वास माना गया है जबकि इस नली के बाहर कामदेव का स्थान होता है। माता पार्वती व मंगला देवी पान के पत्ते के बाईं ओर रहती हैं तो पत्ते के दाहिनी ओर भूमि देवी विराजमान रहती हैं और अंत में भगवान सूर्य नारायण पान के पत्ते के सभी जगह पर उपस्थित होते हैं।

पौराणिक ग्रंथों की माने तो पान के बारे में बताया गया है कि इसका प्रयोग देवताओं द्वारा समुंद्र मंथन के दौरान भी किया गया था और उसके बाद से ही इसे पूजन के दौरान प्रयोग में लाया जाने लगा। पान की एक विशेषता और भी है, ये नकारात्मक ऊर्जा दूर कर सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देने का काम करता है। ये तो हो गई पान के बारे में कुछ विशेष बातें लेकिन आपको एक बात का अवश्य ध्यान रखना चाहिए कि जब भी आप पूजन सामग्री में पान के पत्ते का प्रयोग करे तो उसके चयन में कुछ बातों का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए।

पूजा में पान के पत्ते का प्रयोग 
पूजा में पान के पत्ते का प्रयोग 
google 

ये हैं वो बातें

जब भी आप कभी पूजन के लिए पान के पत्ते का चयन करें तो इस बात का ध्यान रखें कि उसमें किसी भी तरह का छिद्र ना हो क्योंकि छिद्र वाले पत्ते को भगवान स्वीकार नहीं करते।

कभी भी आप पूजन के लिए पान का पत्ते लेने जाएं तो ध्यान रहे कि ये पत्ते सूखे ना हो क्योंकि ऐसे पत्तों के प्रयोग करने से आपकी पूजा अधूरी रह जाती है।

पूजा के लिए पान का पत्ते खरीदने से पहले ये जरूर देख लें कि उस पत्ते का मध्य हिस्सा फटा हुआ ना हो और न ही वो चमकदार हो।