मुनव्वर ने सोशल मीडिया पर पर रोया दुखड़ा, कहा उस अपराध के लिए सजा भुगती जो किया ही नही

मुनव्‍वर फ़ारूक़ी ने कहा मरते दम तक कॉमेडी करूँगा चाहे कुछ भी हो जाए
मुनव्वर ने सोशल मीडिया पर पर रोया दुखड़ा, कहा उस अपराध के लिए सजा भुगती जो किया ही नही
मुनव्वर ने सोशल मीडिया पर पर रोया दुखड़ाYoutube

भारत के संविधान ने हर एक भारतीय नागरिक को अपने विचारों को व्यक्त करने की आज़ादी दी है। लोग इस अधिकार का उपयोग सत्ता, पक्ष, विपक्ष और समुदाय के खिलाफ नैतिकता और संविधान के दायरे में रखकर करते है लेकिन अक्सर यह देखा गया है कि लोग इसका दुरुपयोग करने से भी नही चूकते। कई बार इसकी भाषा इतनी अमर्यादित हो जाती है कि इससे लोगों की भावनाओं में उबाल आ जाता है। जिसके परिणाम भयानक साबित हो सकते है।

कुछ ऐसा ही कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी के साथ हो रहा है उनके कार्यक्रमों में प्रयुक्त शब्दों और तरीके से आहत होकर लोगों ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। हालांकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मुनव्वर को रिहा कर दिया गया है और अब मुनव्वर यूट्यूब पर खुद को निर्दोष बताते नजर आ रहे है।

कहा बिना अपराध के खरोंच पाई:

दरअसल मुनव्वर फारूकी के साथ बीते कुछ दिनों में घटित हुआ वो अचानक से नही हुआ बल्कि इस मामले पर लोग काफी पहले से खोजबीन कर रहे थे लेकिन बीते महीने की एक जनवरी को मध्यप्रदेश के इंदौर में एक इवेंट के आयोजन किया गया था जिसमें अन्य कलाकारों के साथ मुनव्वर फारुकी का आना भी तय था। इसी इवेंट में इंदौर के स्थानीय समाज सेवक की शिकायत पर मध्यप्रदेश पुलिस ने फारूकी को हिन्दू देवी देवताओं पर अश्लीलता भरे जोक मारने, गृह मंत्री अमित शाह समेत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऊपर आरोप लगाने के चलते गिरफ्तार कर लिया। समाजसेवी एकलव्य ने फारूकी के ऊपर आरोपों की एक कड़ी तैयार की और बताया कि ये बीते लंबे वक्त से हिन्दू देवी-देवताओं को मजाक बनाकर लोगों को अपने जोक सुनाते रहे है। इस पर स्थानीय पुलिस ने मुनव्वर और उनके अन्य साथियों को आईपीसी की सुसंगत धाराओं में जेल भेज दिया। इसपर मुनव्वर ने सेसन कोर्ट के अलावा मध्यप्रदेश के हाईकोर्ट में बेल की अर्जी डाली जो कि मुनव्वर के क्रियाकलापों के मद्देनजर खारिज हो गयी। हालांकि बाद में जब मुनव्वर ने सुप्रीप कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की तो उन्हें जमानत मिल गयी। जमानत पर बाहर आने के बाद मुनव्वर ने लोगों से अपनी बात कही है।

लोगो से मुखातिब होते मुनव्वर फारूकी....

इंटरनेट के दुरुपयोग पर उठाए सवाल:

मुनव्वर फारूकी ने सबसे पहली शुरुआत खुद को निर्दोष बताकर की, मुनव्वर ने बताया कि उन्हें उस काम के लिए खरोंचे मिली जो उन्होंने किया ही नही, साथ ही मुनव्वर ने अपने चाहने वालों और विरोधियों को नसीहतों का पुलिंदा पकड़ाया। मुनव्वर के अनुसार वो लोगों को हंसाने का काम करते है उनका कभी भी किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का इरादा नही रहा है और मुनव्वर ने यह भी बताया कि उनका इरादा कभी भी कॉमेडी छोड़ने का नही है, वह यही काम करना जानते है, और मरते दम तक करते रहेंगे।

बात जो भी हो लेकिन सोशल मीडिया पर लौटने के पहले कोई धमाका करना बेहद जरूरी था जिसमें मुनव्वर ने अपनी जगह मजबूत कर ली है। देखना यह होगा कि वह आगे चलकर अपने जोक्स में वही ट्रेंड बरकरार रखते है अथवा उसमें कुछ बदलाव आता है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com