उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
SpiceJet Aircraft Broken Window 
SpiceJet Aircraft Broken Window |Google
वायरल बुलेटिन

इसे देखकर लगता है कि विमानन कंपनियां सच में घाटे में है

खिड़की के टूटे हुए कांच को सेलो टेप से जोड़कर काम चलाया

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

Summary

फर्ज करिये की आप हज़ारों फीट ऊँचाई पर किसी विमान में यात्रा कर रहे है और आपको प्लेन के स्ट्रक्चर में कोई दरार दिखे जिसे किसी एडहिसिव से जोड़कर काम चलाया जा रहा हो, ये बातें अनाप-सानाप नही हैं बल्कि इस से कुछ मिलता जुलता एक विमान में घटा है जिसको लेकर के यात्री ने कंपनी को चेताया।

दरअसल मामला नामी गिरामी वायु परिवहन विमानन कंपनी से जुड़ा हुआ है जहाँ हरिहरन शंकरन नामक व्यक्ति स्पाइसजेट की विमान संख्या SG8152(VT-SYG) में मुंबई से दिल्ली के लिए 5 नवंबर को उड़ान भर रहे थे, तभी उनकी निगाह साइड की विंडो की ओर पड़ी जहां दरार खाई खिड़की को सेलो टेप की मदद से जोड़कर सही किया गया था, यात्री ने मौके की स्थिति भांपते हुए डीजीसीए इंडिया समेत स्पाइसजेट को खिड़की की तश्वीर खिंचकर ट्वीट कर दिया।

ट्वीट के सार कुछ इस प्रकार था:

स्पाइसजेट की उड़ान SG8152 (वीटी-एसवाईजी) मुंबई से दिल्ली के लिए उड़ान (5 नवंबर 2019) को जेल की टेप के साथ टूटी हुई खिड़की के साथ। क्या यह एक सुरक्षा चिंता का विषय नहीं है? कोई सुन रहा है?

हालांकि इस पर स्पाइसजेट ने तत्काल प्रभाव से उनकी समस्या को वरीयता देते हुए जवाब दिया:

इस पर हरिहरन ने विमानन कंपनी को जवाब दिया कि टूटी हुई कांच की खिड़की को सेलो टेप से चिपकाकर काम चलाया जा रहा है, ये किसी बड़ी दुर्घटना का सबब हो सकता है। इस पर ट्विटर के ट्रोल वीरों ने स्पाइसजेट को दौड़ा लिया और इतने घातक कमेंट किये की क्या कहने:

जान की कीमत तुम क्या जानो स्पाइस बाबू

ये स्वादु महोदय है:

इस प्रकार के आरोपों और प्रत्यारोपों के बाद स्पाइसजेट ने किलियर किया ये टेप विंडो की इनर शील्ड पर लगाया गया है जिसका स्ट्रक्चर पर कोई असर नही पड़ता, लेकिन फिर भी विमानन कंपनियों को इस तरह की समस्याओं पर नजर रखनी चाहिए, हर बड़ी एयरलाइंस दुर्घटनाओं में इसी प्रकार की बेहद छोटी खामियों की उपस्थिति होती है।