उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
 न्यूज़ीलैंड के क्राइस्चर्च मस्जिद में हुआ था आतंकी हमला 
न्यूज़ीलैंड के क्राइस्चर्च मस्जिद में हुआ था आतंकी हमला |Google
वायरल बुलेटिन

न्यूजीलैंड मस्जिद हमले के बाद पाकिस्तानियों ने लगाया भारत पर कश्मीरों की हत्या का आरोप

न्यूजीलैंड में दो मस्जिदों पर हमला कर 50 लोगों को मौत के घाट उतारने का आरोपी ऑस्ट्रेलियाई बंदूकधारी अपनी पैरवी खुद करेगा।

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

भारत और पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के बीच तनाव धीरे-धीरे कम हो रहा है, स्थितियां बदल रही है। लेकिन न्यूज़ीलैंड के क्राइस्चर्च मस्जिद में हुए आतंकी हमले ने एक बार फिर पूरी दुनिया को दहला कर रख दिया है। जुम्मे की नमाज से पहले हुए इस आतंकी हमले में 50 से ज्यादा लोग मारे गए थे। इस आतंकी हमले के बाद कई सवाल उठ रहे हैं, आखिर ऐसा क्या हुआ कि 28 साल के एक ऑस्ट्रेलियाई युवक को बंदूक उठानी पड़ी ? मस्जिद में बंदूक लेकर घुसना पड़ा ? एक और बड़ा सवाल ये कि जिस मस्जिद पर हमला हुआ, वो मस्जिद ही क्यों चुनी गई?

इन सवालों के जवाब पता नहीं कब मिलेंगे। लेकिन एक भारतीय ने ऐसा जवाब जरूर दिया जो आपको सोचने पर विवश करेगा कि आतंकवाद का कोई मजहब नहीं होता, कोई जाति नहीं होती, कोई देश नहीं होता, कोई धर्म नहीं होता, यह मात्र एक हिंसक दुर्भावना है।

पाकिस्तानी नागरिक एनी खालिद ने अपने ट्वीटर कुछ सवाल पोस्ट किए, उन्होंने लिखा -

मैं मुसलमान हूँ।

इराक में ईसाई मुझे मारते हैं।

बर्मा में बौद्ध मुझे मारते हैं।

यहूदियों ने मुझे फिलिस्तीन में मार दिया।

कश्मीर में हिंदू मुझे मारते हैं।

न्यूजीलैंड में नास्तिक मुझे मारते हैं।

लेकिन फिर भी, मैं आतंकवादी हूं।

पाकिस्तानी नागरिक एनी खालिद को जवाब देते हुए ज़ाकिर खान ने लिखा, मैं कश्मीरी मुसलमान हूं और कश्मीर में किसी हिंदू ने मुसलमानों को नहीं मारा। बल्कि पाकिस्तान ने आतंकवाद को बढ़ावा दिया जिससे हम मारे जा रहे हैं। 1990 में, कश्मीरी हिंदुओं को पाकिस्तान स्थित आतंकी समूहों द्वारा कश्मीर से भागने के लिए मजबूर कर दिया गया था।

फिर भी जम्मू कश्मीर में मुख्यमंत्री और अधिकतम केबिनिट मंत्री हमेशा मुस्लिम रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर में पुलिस और प्रशासन में अधिकतर बड़े अधिकारी मुस्लिम हैं, कश्मीर मुस्लिम बहुल आबादी वाला प्रदेश है। फिर कैसे कश्मीर में हिंदू मुसलमानों को मार रहे हैं। तो मिस एनी खालिद झूठ बोलना बंद करो और अपने पीएम से कहो आतंकवाद को बढ़ावा देना बंद करें, आप कश्मीर में शांति देखेंगे।

आपको बता दें कि, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF काफिलें पर हुए आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव अपने चरम पर था। पुलवामा का बदला लेते हुए भारत ने पाकिस्तान में स्थित जैश ए मोहमद के आतंकी प्रशिक्षण शिवर पर एयर स्ट्राइक की थी। जिसमें आतंकियों हिला कर रख दिया था। भारत की कार्यवाई के बाद पाकिस्तान ने भी भारत के खिलाफ जवाबी कार्यवाई करने की कोशिश की थी लेकिन सफल नहीं हुआ।