सोशल मीडिया पर अमेज़न के खिलाफ शुरू हुआ विरोध, यह रही वजह

दीपावली के आने से पहले ऑनलाइन साइट पर इन दिनों बंपर सेल का आयोजन हो रहा है लेकिन इसी दौरान सोशल मीडिया में अमेज़न के खिलाफ लोगों द्वारा बायकॉट की मुहिम चलाई जा रही है।
सोशल मीडिया पर अमेज़न के खिलाफ शुरू हुआ विरोध, यह रही वजह
Protests against Amazon started on social media for Demeaning HinduismUday Bulletin

डोरमैट और अंत वस्त्र पर देवी देवताओं के चित्र:

सारा बवाल अमेज़न पर बिकने वाले उत्पादों को लेकर उठ खड़ा हुआ है दरअसल बंपर सेल के दौरान ऑनलाइन शॉपिंग साइट पर जबरदस्त तरीके से सामानों की लिस्टिंग की गई है। इस दौरान लोग शॉपिंग करने के लिए ऑनलाइन साइटों पर पहुंचे लेकिन इसी दौरान अमेज़न पर मिलने वाले उत्पादों को लेकर लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया। लोगों ने आरोप लगाए की अमेज़न पर हिन्दू देवी देवताओं के चित्र वाले अंडरगारमेंट्स, डोरमैट और राष्ट्रीय ध्वज के रंगत वाले अनैतिक उत्पाद शॉपिंग के लिए उपलब्ध थे।

लोगों ने कहा कि ओम सनातन संस्कृति के उत्पत्ति का शब्द है जिसको अमेज़न द्वारा डोरमैट के रूप में चित्रित करके ऑनलाइन बेचा जा रहा है। जिस शब्द की इतनी ज्यादा पवित्रता और महत्ता हो उसको अंडरवियर पर प्रिंट करके आखिर ये लोग साबित क्या करना चाहते है?

ऑनलाइन खरीदारी करने वाले उपभोक्ताओं ने अपनी शिकायत करते हुए कहा कि जबकि भारत ऑनलाइन शॉपिंग के लिए एक व्रहद बाजार बनकर उभरा है और बहुसंख्यक समुदाय के पूज्य देवी देवताओं के चित्र महिलाओ और पुरुषों के अंडर गारमेंट्स पर छापे जाए ये असहनीय है। आपको कोई अधिकार नहीं बनता की आप हिन्दुओं की धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ करें।

देश मे चल रहे माहौल को मद्देनजर रखते हुए लोगों ने कहा कि हिंदुत्व एक बेहद सॉफ्ट टारगेट बन चुका है। जिसके साथ छेड़छाड़ करना एक फैशन का रूप लेता जा रहा है। आखिर सहने की भी क्षमता होती है।

लोगों ने दुनिया भर में धार्मिक मान्यताओं के विरोध के उदाहरण देकर बताया जा रहा है कि एक धर्म के पैगम्बर के कार्टून छापने पर गला रेत दिया जाता है और वही आप हिन्दू देवी देवताओं के चित्र डोरमैट में छापकर फैशन चलाने की बात कर रहे है।

हालांकि यह पहला मामला नहीं है जब इस तरह के समान अमेज़ॉन पर लिस्ट किये गए हो। इससे पहले भी कई बार धार्मिक और राष्ट्रीय चित्रों के अपमान करने की दृष्टि से समानो को लिस्ट किया जा चुका है और बवाल होने पर माफी भी मांगी गई है लेकिन अभी तक इस हंगामे के बाद भी अमेज़न की तरफ से कोई बयान सांमने नहीं आया है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com