उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Priya Bharti School Hyderabad
Priya Bharti School Hyderabad|Google Image
वायरल बुलेटिन

टॉपर-टॉपर, पता नही कहाँ-कहाँ टॉपर, अब तो नर्सरी के भी टॉपर, कहाँ से कहाँ पहुच गए हम

शिक्षा माफिया पब्लिसिटी के लिए कुछ भी कर सकते हैं।

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

Summary

जनाब आप नब्बे के दशक को याद करिये, हाईस्कूल के रिजल्ट के दिन बच्चे रात-रात भर जाग कर रिजल्ट घोषणा वाले अखबार को लाने के लिए स्टेशन और बस स्टैंड पर खड़े रहते थे, रिजल्ट में ग्रेस मार्क से भी पास होने पर मिठाईयां बांटी जाती थी, अगर कोई 70% ले आया तो बल्ले-बल्ले, जिले में नाम होता था, होनहारी  देखकर लोग रिश्ते लाने लगते थे, लेकिन अब जमाना बदल चुका है, अब कुल मिलाकर हर जगह से टॉपर निकल रहे है, नीट से , सीबीएसई से ,यूपी बोर्ड से और पता नही कहां कहाँ से , लेकिन हद तो तब हो गयी जब एक स्कूल ने शेखी बघारने के चक्कर मे किंडरगार्टन (KG) LKG, UKG वाले बच्चों की टॉपर लिस्ट बाकायदा छपवा दी।

मामला हैदराबाद के एक स्कूल प्रिय भारती हाई स्कूल का है, जहां विद्यालय ने अपनी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रणाली दिखाने के लिए जगह-जगह पोस्टर बैनर लगाए है, लेकिन इसमें टॉपरों का ब्यौरा बाल नोचने की स्थिति में ला सकता है, इसमे कोई भी विद्यार्थी किसी बड़ी क्लास का नही है, न ही इंटरमीडिएट या हाईस्कूल, इसमें शामिल है LKG ,UKG, और तमाम प्रकार की छोटी कक्षाओं के छात्र, जिनको अभी न तो टॉपर का मतलब पता है, न ही कंपटीशन का एबीसीडी आता है, लेकिन विद्यालय ने अपना क्लास दिखाने के लिए बाकायदा पोस्टर छपवाकर शहर के हर हिस्से में लगवा दिए हैं, और इन्ही पोस्टरों को लेकर स्कूल की फजीहत हो रही है, लोग ट्विटर पर इसके स्क्रीनशॉट लेकर शेयर कर रहे है, और मजेदार कैप्शन लिख रहे है।
इसी खबर को लेकर @krrisshyadhu  नामक यूजर ने लिखा कि बच्चे किस कंपटीशन में टॉपर है दूध पीने में ?

निपुन नामक उपयोगकर्ता ने लिखा है कि, टॉपर्स का प्लेसमेंट अमेज़न में हुआ है 20 लाख के पैकेज के साथ।

लोगों के अनुसार उस उम्र में बच्चो को अपनी नैसर्गिक क्रियाएं तो याद नही रहती, उन्हें इस तरह का कंपटीशन लाद कर उनके बचपन को मारा जा रहा है, बाल मनोरोग विशेषज्ञों के अनुसार भी बच्चों की इस उम्र में प्रोत्साहन तो एक हद तक सही है, लेकिन इस कदर का कंपटीशन उन्हें मानसिक कमजोर और कुंठा वाला बना सकता है, जिसके परिणाम भयावह हो सकते है
लोगो की प्रतिक्रिया भी कुछ इस प्रकार है