ऑनलाइन शॉपिंग साइट मिंत्रा पर दर्ज हुई एफआईआर, कंपनी ने बदला लोगो
ऑनलाइन शॉपिंग साइट मिंत्रा पर दर्ज हुई एफआईआरGoogle Image

ऑनलाइन शॉपिंग साइट मिंत्रा पर दर्ज हुई एफआईआर, कंपनी ने बदला लोगो

लोग किस चीज से कब भड़ास निकाल ले पता नही चलता, कुछ ऐसा ही हुआ ऑनलाइन शॉपिंग साइट और एप मिंत्रा के साथ, दअरसल एक महिला ग्राहक ने मिंत्रा के लोगो को लेकर सायबर सेल में शिकायत दर्ज कराई थी

मुंबई में एक एनजीओ है, अवेस्ता फाउंडेशन और इसकी कार्यकर्ता है नाज पटेल इन्हें बीते साल दिसंबर 2020 में दिग्गज कंपनी मिंत्रा का लोगो आंखों में खटक गया उन्होंने साइबर पुलिस सेल में उक्त कंपनी के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई कि मिंत्रा कंपनी का लोगो महिलाओं के शारीरिक बनावट पर तंज करता हुआ नजर आ रहा है। दरअसल लोगो की बनावट काफी देर से देखने के बाद ऐसा समझ मे आता है मानो कोई महिला लैगिंग्स पहने हुए लेटी हो। इस पर की गई शिकायत की जानकारी जब शॉपिंग साइट मिंत्रा तक पहुंची तो मिंत्रा ने इस मामले में पक्ष रखने के साथ सुधार की बात कही ।

लोगो मे हुआ बदलाव:

मामले के सोशल मीडिया में आने के बाद उबाल स आ गया, लोगों ने मिंत्रा के लोगो को गौर से देखना शुरू कर दिया और नतीजन दबाव में आकर शॉपिंग साइट ने अपने लोगो मे बदलाव करना मुनासिब समझा और आखिरकार लोगो मे मामूली बदलाव करके जानकारी साझा की। लेकिन इसके बाद सोशल मीडिया पर बहस होनी शुरू हो गयी कि क्या इस तरह के सभी लोगो और विज्ञापन स्ट्रेटजी पर बदलाव लाना चाहिए। यहां आपको बताते चलें की बीते वर्ष में तनिष्क के विवादित विज्ञापन पर भी बवाल हुआ था। जिन्होंने अपने विज्ञापन में हिन्दू मुस्लिम एंगल दिखाया था और कुछ दिन पहले ही देश मे नम्बर एक फेयरनेस क्रीम फेयर एंड लवली ने भी अपने नाम मे बदलाव किया था।

अवेस्ता ने लोगो के बदलने पर अपनी जीत का एलान किया:

लोगों ने अवेस्ता पर भी उठाए सवाल:

हालांकि ऐसा नही है कि सिर्फ नाज पटेल ने ही मिंत्रा पर सवाल उठाए है। लोगों ने अवेस्ता NGO पर ही उंगलियां उठानी शुरू कर दी। लोगों ने कहा कि अवेस्ता को भी अपने लोगो मे बदलाव करने चाहिए। यही नही लोगों ने सब्जी भाजी में भी शिकायती लहजे में रोक लगाने की बात कह।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com