Video: माँ तो माँ होती है, फिर चाहे पक्षी ही क्यों न हो

माँ किसी भी भाषा के वर्णों का अद्भुत संयोजन है जिसे किसी भी भाषा मे पुकारा जाए लेकिन उससे स्नेह झलकना लाजिमी है
Video: माँ तो माँ होती है, फिर चाहे पक्षी ही क्यों न हो
Heartwrenching videoSocial Media

ताजा मामला एक वायरल वीडियो से जुड़ा हुआ है जिसमें एक मादा पक्षी अपने बच्चों की जान की हिफाज़त के लिये खुद को कुर्बान करती हुई नजर आ रही है।

मादा पक्षी ने खुद को मारकर बच्चों को बचाया:

वीडियो को सुधा रमन नामक आईएफएस ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है जिसमें यह नजर आता है कि एक मादा पक्षी अपने घोंसले "जिसको जमीन पर एक बिल में बनाया गया है" में कई बच्चों के साथ नजर आती है, तभी उस बिल में पहले से घात लगाए हुए एक सांप ( संभवतः रॉक पायथन या अजगर) अपने खाने की जुगाड़ में घुस जाता है, मादा पक्षी अपने बच्चों को बचाने के लिए जोर-जोर से पंखों को फड़फड़ाकर आवाज लगाती है और उन्हें किसी तरह घोंसले से बाहर निकालने का प्रयास करती है, सांप के अप्रत्याशित तरीके से घोंसले में आने की वजह से बच्चे शुरुआत में घोंसले से नही निकलते लेकिन मादा पक्षी उन्हें पंख फड़फड़ाकर उन्हें बाहर धकेल देती है, आखिरी बच्चा जब तक घोंसले से बाहर निकलता है तब तक मादा पक्षी का दम अजगर अपनी पकड़ से घोट देता है और वीडियो यहीं पर समाप्त हो जाता है।

लोगों ने कैमरा पर्सन की मानसिकता पर सवाल उठाए, कहा खाद्य श्रंखला सही है लेकिन भावनाएं भी कोई चीज होती है

इस वाकये को लेकर लोगों ने तरह-तरह के तर्क दिए, लोगों ने इसे माँ के स्नेह और वात्सल्य की नजर से देखा, इसपर लोगों ने सवाल उठाये कि अगर सांप उस घोंसले में जा रहा था तो उस वक्त कैमरा पर्सन क्या कर रहा था? उसे इस मातृत्व से कोई खास लगाव नजर नहीं आता, लोगों ने कहा कि अगर कैमरा पर्सन चाहता हो उस माँ की जान बच सकती थी

हालाँकि यह भी सत्य है कि यह खाद्य श्रंखला का पायदान है जिसमें इस तरह के वाकये बेहद आम है, फिर चाहे वह सांप हो या कोई अन्य शिकारी जानवर जैसे भेड़िया, वो इसी तरह घात लगाकर शिकार करते है।

मामला जो भी हो लेकिन यह वीडियो माँ के बारे में पाठ तो अवश्य पढ़ाता है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com