Massey Tractor Breaks into Two Pieces
Massey Tractor Breaks into Two Pieces|Youtube Screen Grab
वायरल बुलेटिन

मैसी ट्रैक्टर के हो गए दो टुकड़े, सोशल मीडिया पर वायरल। 

लोगों ने ट्रैक्टर के दो टुकड़े हो जाने पर किसान के लिए मजे, असल मामला किसान ने खुद साझा किया। 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

लगभग पिछले हफ्ते से व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया पर एक क्रेन से मैसी 5750 ट्रैक्टर खींचता हुआ देखा जा रहा है ज्यादा झटका लगने की वजह से ट्रैक्टर के दो टुकड़े होते हुए नजर आ रहे है, लोग इस मामले को चटखारे लेकर इधर-उधर भेज रहे हैं और ट्रैक्टर को खींचने के बाद होने वाले खर्चे के आंकलन करने की जानकारी दे रहे है, लेकिन असल कहानी इधर है।

किसान ने इस वीडियो पर अपनी बात रखी है:

एक दूसरे वीडियो में किसान बताते हुए नजर आ रहे है कि सन 2011 में मैंने मैसी फेगुरशन ट्रैक्टर खरीदा था, जो खेती बाड़ी और माल को ढोने में बेहद उत्तम था कुछ समय पहले ही किसान ने पुराने ट्रेक्टर को वापस एजेंसी में जमा करके नया ट्रेक्टर लिया था, पुराने ट्रेक्टर के एवज में उसे अच्छी खासी छूट मिली थी, और वर्तमान में वह मैसी का ही 5750 ट्रैक्टर लिया हुआ था, जोकि खेती और माल ढुलाई में अव्वल था, लेकिन नौसिखिया ड्राइवर की वजह से ओवरलोड ट्राली एक गड्ढे में फस गयी, जिसको निकालने के लिए एक क्रेन मंगाई गई, जिसके चालक को भी ज्यादा अनुभव नही था।

मैसी ट्रैक्टर टूटने का वायरल वीडियो:

गलत तरीके से ट्रैक्टर खींचा तो दो दुकड़े हो गए :

दरअसल मामला ओवरलोड और ट्रैक्टर के गलत तरीके से की गई टोचिंग का है, जानकार बताते है कि वाहन को खिंचते वक्त कोण का खयाल ही नहीं रखा गया, जिससे फोर्स का केंद्र ट्रैक्टर के बीचोबीच हो गया, अब जब ट्राली अपने मानक के अनुसार ही नहीं थी, तो अगर तकनीकी रूप से देखा जाए तो ट्रैक्टर का टूटना बेहद निश्चित था।

इस मामले में मुख्य दो कारण है जिसकी वजह से दो टुकड़ो में ट्रैक्टर बंटा:

  1. ट्राली एक आम ट्राली से करीब तीन गुना बड़ी थी, और उसमे बेहद वजन वाला माल यानी गन्ना लदा हुआ था, और चूंकि ट्राली का पहिया गड्ढे में था, इस लिए ये घटना हुई।
  2. टो करते वक्त खींचने के नियमों का पालन नहीं किया गया, चूंकि किसी वाहन को खींचने के लिए नियम और मानक होते है, खिंचते वक्त इन सभी नियमों का पालन नहीं किया गया।

मैसी ने क्या किया :

ट्रैक्टर मालिक के अनुसार जैसे ही उसे इस घटना की जानकारी हुई उसने स्थानीय डीलर ( जहाँ से ट्रेक्टर ) खरीदा गया था उन्हें सूचित किया, उन्होंने मौके पर आकर घटना का जायजा लिया और घटना के सारे साक्ष्य किसान के विरोध में होने के बावजूद भी किसान की स्थिति देखकर उसे रिपेयरिंग के लिए वर्कशॉप पहुँचाने की गुजारिश की, डीलर ने किसान को एक अल्टरनेटिव ट्रैक्टर उपलब्ध कराया है ताकि किसान के कार्य मे बाधा न आये, और उसके ट्रैक्टर के सही हो जाने के बाद उसका ट्रेक्टर उसे वापस किया जाएगा।

खराब होती है ब्रांड वैल्यू :

किसी भी वाहन कंपनी के ब्रांड की एक वैल्यू होती है जिसे वह किसी भी स्थिति में खराब नहीं होने देना चाहता, यही कारण है किस सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने के बाद मैसी ने अपने स्तर पर किसान की मदद करनी शुरू कर दी है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com