हाथरस मामला: मृतका की मां का पुराना वीडियो हो रहा वायरल, गुड़िया की मां ने क्या कहा था सुनिए

पुरानी रंजिस की वजह से हुआ हमला, रेप की कोई चर्चा ही नहीं
हाथरस मामला: मृतका की मां का पुराना वीडियो हो रहा वायरल, गुड़िया की मां ने क्या कहा था सुनिए
Hathras Rape CaseSocial Media

उत्तर प्रदेश के हाथरस मामले में अब नया मोड़ आ चुका है, मामले में नामजद लड़कों के परिजनों ने इस मामले में सीबीआई जांच कराने की मांग की है, उन्होंने बताया कि उनके लड़के उस वक्त मौके पर मौजूद ही नहीं थे, ठीक उसी वक्त पीड़िता की माँ के बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे है, जिसमें पहले की रंजिश का हवाला दिया जा रहा है।

क्या रेप की बात बनाकर प्रसारित की गई?

अगर पीड़िता की माँ के द्वारा दिया गया बयान सच है तो हाथरस मामले में गुड़िया के साथ हुए बलात्कार की थ्योरी पूरी तरह नकार दी जाती है, दरअसल मामले से जुड़े हुए कुछ वीडियो वायरल हुई है ये वीडियो उस वक्त के है जब इस मामले को सनसनीखेज नहीं बनाया गया था बल्कि यह आम मारपीट की घटना तक ही सीमित थी लेकिन जैसे ही इस मामले में सामूहिक रेप का एंगल जोड़ा गया तो सरकार ने आनन-फानन में गुड़िया को सरकारी खर्चे के तहत इलाज की कार्यवाही शुरू की गई साथ ही हालत बिगड़ने पर पीड़िता को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल भेजा गया। इससे पहले ही पीड़िता के बयान और परिजनों के बयान पर संदीप के साथ अन्य तीन लोगों के नाम एफआईआर दर्ज कराई गई तथा बाद में बलात्कार की धाराएं भी लगाई गई। हालांकि बाद में पुलिस ने बलात्कार वाली बात को पोस्टमार्टम में गलत बताया, पुलिस ने कहा कि बलात्कार जैसी घटना नहीं हुई है, केवल मारपीट का मामला है।

पीड़िता की माँ ने बताया असल सच:

पीड़िता की माँ ने अपने एक पूर्व बयान में इस मामले की असल जानकारी दी कि वह अपनी बेटी के साथ घास काटने के लिए ठाकुरों के खेत मे गयी हुई थी जिस समय वह और उसकी बेटी घास काट रही थी उसी वक्त संदीप पुत्र गुड्डू (ठाकुर) पीछे से आया और गुड़िया को रस्सी द्वारा गले मे बांधकर बाजरे के खेत मे ले गया और रस्सी की मदद से गला घोंटकर मारने की कोशिश की, इस बयान के दौरान पीड़िता की माँ ने साफ-साफ बताया कि उसके साथ केवल मारपीट की वारदात को अंजाम दिया। हमले के वक्त संदीप अकेला था और इस दौरान गुड़िया को भी बोलते हुए सुना जा सकता है कि संदीप ने गला घोंटने के साथ-साथ जीभ काटने की भी कोशिश की, पीड़िता की माँ ने बताया कि इस बात के अलावा और कोई बात नहीं है।

दूसरे वायरल वीडियो में बताया कि रंजिश पुरानी थी:

सोशल मीडिया में हाथरस केस से जुड़ा हुआ दूसरा वायरल वीडियो लगातार सर्कुलेट हो रहा है जिसमें महिला द्वारा साफ-साफ यह बताया जा रहा है कि हमले के वक्त केवल संदीप उपस्थित थे और घटना को अंजाम दिया गया है, यहाँ के बयान में भी रेप जैसी घटना को सामने नही लाया गया है। यही नहीं महिला यह भी बताती है कि संदीप के घर से एक पुरानी रंजिश चल रही है जिसके तहत उसके ससुर का भी कुछ वक्त पहले दरांती से सर फोड़ा गया था।

क्या मामले को चमकाने के लिए रखी गयी रेप थ्योरी ?

अगर इन दोनों मामलों पर नजर डाली जाए तो घटना में सीधे-सीधे आपसी रंजिश का मामला निकल कर सामने आता है और रेप वाली थ्योरी सीधे तरीके से गायब हो जाती है। अगर सही तरीके से देखे तो इस मामले में केवल एक अभियुक्त जुड़ा हुआ है संदीप पुत्र गुड्डू लेकिन इस मामले में दोबारा दिए गए बयानों के अनुसार अन्य लोगों को भी नामजद किया गया है।

अन्य आरोपित लोगों के परिवार ने बुलाई पंचायत:

इस मामले में संदीप के अलावा नामजद लोगों के परिजनों ने दूसरे गांवों को जोड़कर सीबीआई जांच कराने के लिए मांग की है, चूंकि परिवार का दावा है कि उनके लड़के उस वक्त घटना स्थल पर मौजूद ही नहीं थे बल्कि उनमे से एक तो निजी कंपनी में ड्यूटी पर था। उन्होंने मांग की है कि अगर सरकार चाहे तो सीबीआई जांच करा सकती है और कंपनी का सीसीटीवी फुटेज चेक कर सकती है, मामला साफ हो जाएगा।

डिस्क्लेमर: उदय बुलेटिन का इरादा किसी केस को पथभृमित करना नहीं है बल्कि सत्य को सामने लाना है, हम हर प्रकार से पीडिता गुड़िया के साथ खड़े है लेकिन किसी भी स्थिति में निर्दोषों के साथ अन्याय नहीं होना चाहिए।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com