क्या फ्लिपकार्ट ने नागालैंड को भारत से अलग कर दिया?

ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले एक ग्राहक ने फ्लिपकार्ट (Flipkart) से पूँछा, नागालैंड में आप डिलीवरी क्यों नहीं देते तो फ्लिपकार्ट ने जबाब दिया कि हम भारत के बाहर सेवाएं नहीं देते।
क्या फ्लिपकार्ट ने नागालैंड को भारत से अलग कर दिया?
flipkart delivery in nagalandsocial media

शायद ही भारत मे कोई ऐसा युवा हो जो फ्लिपकार्ट के नाम से परिचित न हो, होना भी चाहिए दरअसल भारत मे ऑनलाइन शॉपिंग का एक्सपीरियंस फ्लिपकार्ट ने कराना शुरू किया था। लेकिन बीते दिनों में फ्लिपकार्ट ने एक गोलमाल कर दिया, अब इसे भूल मानना या नही मानना आपके ऊपर निर्धारित है, दरअसल एक उपभोक्ता ने फ्लिपकार्ट से पूंछा की उन्हें फ्लिपकार्ट की डिलिवरी क्यों नही मिल पा रही इसके बाद जवाब में बवाल हो गया।

फिल्पकार्ट से की शिकायत:

दरअसल फ्लिपकार्ट के एक उपभोक्ता ने फ्लिपकार्ट के नागालैंड में ऑनलाइन डिलेवरी संबंधित समस्या के बारे में शिकायत की जिसमे ज्ग्राहक ने यह बताया कि आजादी के इतने सालों बाद भी उन्हें भारत के अन्य राज्यो जैसी सुविधाएँ नहीं मिल पा रही है, उपभोक्ता ने फ्लिपकार्ट से पूंछा कि क्या वह अभी तक आजाद नही हुए है क्या? सभी राज्यों को एक समान ट्रीट क्यों नहीं किया जाता?

क्या नागालैंड भारत का अंग नही है:

हालांकि इसे मानवीय भूल कहना भी एक बहुत बड़ी गलती माना जायेगा, लेकिन इस मामले को लेकर फ्लिपकार्ट ने यूजर के कमेंट पर एक माफीनामा भी पोस्ट किया है, कमेंट में फ्लिपकार्ट ने बताया कि उनका प्रयास यह है कि फ्लिपकार्ट के सभी सामान पूरे भारत मे बिना किसी रुकावट के पहुँचे जिसमे नागालैंड भी सम्मिलित है।

हालांकि इस माफीनामे में कहीं भी नागालैंड के भारत का अंग नही बताने वाली माफी का कोई जिक्र नहीं किया गया है। सोशल मीडिया में फ्लिपकार्ट के इस मामले को लेकर एक मुहिम चलाई जा रही है, यहां आपको बताते चले कि फ्लिपकार्ट आने वाले त्योहारी सीजन में बिग बिलियन डेज नाम के मेगा शॉपिंग की तैयारी में लगा हुआ है जिसके तहत लोग भारी छूट का आनंद उठा सकते है। लेकिन इस बवाल के बाद फ्लिपकार्ट का नुकसान होना तय है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

Related Stories

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com