Anuj Bajpai Tweet on Quran and Coronavirus  
Anuj Bajpai Tweet on Quran and Coronavirus  |Anuj Bajpai tweet Screenshot
वायरल बुलेटिन

कोरोना और कुरान में सबसे खतरनाक कौन ? इसका मतलब अनुज बाजपेयी ने बताया। 

हालाँकि मामला बिगड़ने पर ट्वीट को डिलीट करके माफी चेपी गयी, लेकिन जुबान से निकली बोली और बंदूक से निकली गोली भला कहाँ वापस होती है, लोगों ने ट्वीट के स्क्रीन शॉट लेकर बवाल खड़ा कर दिया। 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

10 फरवरी के दिन दोपहर के वक्त अनुज बाजपेयी नाम के उपयोगकर्ता ने अपने ट्विटर हैंडल से एक विवादास्पद ट्वीट किया जिसमें अनुज ने कुरान को विश्व मे फैले जानलेवा वायरस कोरोना से भी खतरनाक बताया। अनुज यहीं नहीं रुके बल्कि अनुज ने भारत में कुरान नामक वायरस से संक्रमित तमाम लोगों की बाकायदा संख्या तक पेश कर दी। लेकिन जैसे ही अनुज के ट्वीट को लेकर बवाल खड़ा हुआ लोगों ने उनको लथेड़ना शुरू किया। इस पर अनुज ने अपने ट्विटर से इस ट्वीट को डिलीट किया लेकिन तब तक वह ट्वीट लोगों के मोबाइल और कम्प्यूटर में स्क्रीनशॉट की शक्ल में जगह बना चुका था।

अनुज ने अपने ट्वीट में लोगो को नसीहत के नदाज में बताया कि “याद रखना कोरोना वायरस से भी भयंकर है कुरान वायरस, भारत मे 20 करोड़ से भी ज्यादा संक्रमित लोग है” 
Anuj Bajpai Tweet on Quran and Coronavirus  
Anuj Bajpai Tweet on Quran and Coronavirus  
Anuj Bajpai tweet Screenshot

हालाँकि इस ट्वीट के बाद ट्विटर पर जनता दो फाड़ होते नजर आयी, कुछ लोगों ने वर्ग विशेष में धर्म की ओर ज्यादा झुकाव को लेकर इसे सही ठहराया तो दूसरा पक्ष इसकी खिलाफत करता हुआ नजर आया।

बवाल होने पर दी अदभुत सफाई :

अब इसे सफाई कहें या नई प्रकार की गंदगी, अनुज ने अपने विवादित ट्वीट को डिलीट करके एक नया माफीनामा ट्वीट किया जिसमें अनुज ने अपने पहले ट्वीट से दो कदम आगे बढ़कर कहानी दर्ज कराई, अनुज के अनुसार उन्होंने कुरान की बात नहीं की थी मुझे यह बताना था कि मुस्लिम मांस ज्यादा खाते है और इस तरह के वायरस मांस से ज्यादा फैलते हैं।

कौन हैं ये साहब ?

जी जमीन पर लोग इन्हें कितना जानते है पता नहीं लेकिन आभासी दुनिया मे 85 हजार के आस-पास लोग इन्हें फॉलो करते है, खुद को ट्विटर पर मुख्यमंत्री कार्यालय का सहयोगी लिखा गया है और सरकारी नीतियों के प्रोमोटर के रूप में दर्शाया गया है।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com