स्वामी और जावेद अख्तर के बीच छिड़ी जुबानी जंग !

मामला ट्विटर का है जहां सुब्रमण्यम स्वामी ने एक बिना निशाने का तीर चलाया और जावेद अख्तर ने जबरजस्ती उस तीर को पकड़ लिया। 
स्वामी और जावेद अख्तर के बीच छिड़ी जुबानी जंग !
Australia Closed 7 Mosques Uday Bulletin

मामला क्या है :

मामला एक ट्वीट से जुड़ा हुआ है, दरअसल सुब्रमण्यम स्वामी अपने कड़वे प्रवचनों के लिए जाने जाते है, जिसमें उन्हें महारत भी हासिल है।इसी क्रम में उन्होंने अपनी क्षमता के अनुरूप आस्ट्रेलिया की एक घटना का उल्लेख करते हुए ट्वीट किया:

ट्वीट के सार यह है कि ऑस्ट्रेलिया ने अपने देश मे चल रही उन सात मस्जिदों को बंद करके मस्जिद के इमामो को बाहर निकाल दिया है। जिंनमे अतिवादी इस्लाम की पैरवी की जा रही थी या फिर इससे संबंधित शिक्षा दी जा रही थी। सनद रहे स्वामी ने यह खबर एक ऑनलाइन समाचार प्रदाता सेवा वॉक्स के आधार पर कही है।

जावेद बेवजह भड़क गए :

जावेद ने सीधे-सीधे सुब्रमण्यम स्वामी पर निजी हमला करते हुए कहा "ठीक उसी प्रकार जैसे आप हावर्ड से बाहर फेंके गए थे। मुझे लगता है कि आप और उन इमामो में कोई खास अंतर नहीं होगा। दोनो के पंख एक जैसे ही होंगे, दोनों का मकसद घृणा फैलाना ही था।

हालांकि इसके बाद भी जवावों-सवालों का दौर रहा, लेकिन स्वामी ने इस बारे में कुछ भी आगे नहीं कहा। बल्कि जावेद अख्तर स्वामी समर्थकों से लड़ते भिड़ते रहे।

एक ट्विटर यूजर ने जावेद को कबाब में हड्डी बताया:

तो जावेदसाहब नसीहत देते हुए नजर आए:

इस मामले में दोनो पक्षों की गलतियां नजर आती है क्योंकि मामला आस्ट्रेलिया से जुड़ा हुआ है तो सुब्रमण्यम स्वामी को इसमें कोई रुचि नहीं होनी चाहिए लेकिन अगर स्वामी ने किसी खबर को कोट करके कुछ बताया तो जावेद अख्तर को इस मामले में कूदने की कोई जरूरत भी नहीं थी। सो इस मामले में स्वामी पाक साफ निकल जाते है लेकिन जिस तरह से जावेद अख्तर ने जबरजस्ती इस मामले को अपने धर्म से जोड़कर देखलिया उसपर चिंता होती है।

⚡️ उदय बुलेटिन को गूगल न्यूज़, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। आपको यह न्यूज़ कैसी लगी कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें।

No stories found.
उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com