Swami Chakrapani on Coronavirus 
Swami Chakrapani on Coronavirus |Uday Bulletin
लाइफस्टाइल

स्वामी चक्रपाणि महाराज ने कोरोना वायरस को दी अवतार की संज्ञा लोगों ने जमकर लूटे मजे। 

भारत सदियों से बतंगड़ वाला देश रहा है, इसके नमूने हर बार किसी न किसी रूप में मिलते रहते है, ताजा मामला हिन्दू महासभा के प्रमुख स्वामी चक्रपाणि महाराज से जुड़ा हुआ है। 

Shivjeet Tiwari

Shivjeet Tiwari

कोरोना नही अवतार है:

अब इसे दुनिया पर छाई हुई महामारी कहें या काल का दूसरा रूप, दुनिया भर में कोरोना वायरस को लेकर जद्दोजहद मची पड़ी है वहीँ भारत मे इसे वायरस की जगह अवतार के नाम से पहचाना जा रहा है। दरअसल हिन्दू महासभा के अध्यक्ष चक्रपाणि महाराज ने इसे ईश्वर का अवतार माना है, चक्रपाणि जी के अनुसार यह अवतार पापियों को दंडित करने के लिए अदृश्य रूप में अवतरित हुआ है। यहाँ आपको बताते चले कि कोरोना वायरस के बारे में पूरी दुनिया मे तमामं थ्योरिया चल रही है। कोई इसे सांपो से आई हुई बीमारी मान रहा है तो कोई इसे सीफूड से आया हुआ वायरस मानकर चल रहा है। कुछ लोगों ने इसे चीन की सरकार द्वारा विकसित किया हुआ जैविक हथियार माना है जो चीन की लैब द्वारा गलती से वातावरण मे फैल गया मानते है।

स्वामी जी का ज्ञान क्या कहता है :

बकौल स्वामी जी "दरअसल यह कोई वायरस नहीं है बल्कि ईश्वर ने मांसाहारियों को दंडित करने के लिए लिया गया अवतार है। जो लोग मानवी भोजन (फल- सब्जियां- दूध) इत्यादि को छोड़कर जीवों की हिंसा करके उनसे प्राप्त मांस इत्यादि का सेवन कर रहा है।ईश्वर इस कोरोना वायरस के अवतार में आकर उन्हें दंडित कर रहे है। और चूँकि यह अपराध क्षम्य नहीं है इसलिए इस अवतार के कारण व्यक्ति सीधे मौत के मुंह मे समा रहा है।

हालांकि इस बयान के बाद सोशल मीडिया में लोग उनकी कही हुई बातों को लेकर मजे ले रहे हैं।

उदय बुलेटिन के साथ फेसबुक और ट्विटर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com